सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

चार दिनों में 2500 अंक से ज्यादा गिरा सेंसेक्स, इनवेस्टर्स के डूबे 8 लाख करोड़

  शेयर बाजार में लगातार गिरावट जारी है और हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिनों में भी ये गिरावट देखने को मिल रही है। जिसकी वजह से इक्विटी निवेशकों की संपदा में 8 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की कमी दर्ज की गई है। शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में बीएसई सेंसेक्स करीब 700 अंक टूटा। पहले मिनट में निवेशकों के करीबन 2.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 194.10 अंक या 1.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,562.90 पर कारोबार कर रहा था। दूसरी तरफ पॉवरग्रिड और एचयूएल के शेयर लाभ में रहे। पिछले सत्र में तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 634.20 अंक यानी 1.06 प्रतिशत लुढ़ककर 59,464.62 पर बंद हुआ। ऐसे आपको इस गिरावट के प्रमुख कारणों से अवगत कराते हैं।  वैश्विक बाजारों में नकारात्मक रूख और विदेशी पूंजी की निरंतर निकासी के कारण से दुनिया भर के बाजार गिरावट में हैं। अमेरिका की फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढोतरी की उम्मीद में ग्लोबल बॉन्ड यील्ड में उछाल की वजह से निवेशक जोखिम लेने से बच रहे हैं और जिसकी वजह से अपने पोर्टफोलियो में कम रिस्की असेट्स शामिल कर रहे हैं।  न केवल अमेरिका में

बड़ा फैसला: पत्नी और बेटी को कोरोना होने के बाद 3 दिन तक अखिलेश नहीं करेंगे रैली, मुख्यमंत्री योगी ने फोन कर जाना हाल

 


 लखनऊ /  उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव के घर कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। आपको बता दें कि अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव और उनकी एक बेटी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। डिंपल यादव ने खुद बुधवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव ने 3 दिनों तक रैली नहीं करने का फैसला किया है। इसके साथ ही उन्होंने खुद का कोरोना टेस्ट कराया। जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई।डिंपल ने ट्वीट में लिखा कि मैंने कोरोना टेस्ट कराया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव है। मैं पूरी तरह से वैक्सिनेटेड हूं और कोई भी लक्षण अभी दिखाई नहीं दे रहे है। अपनी और दूसरों की सुरक्षा की दृष्टि से मैंने खुद को अलग कर लिया है। हाल फिलहाल मुझसे मिलने वाले सभी लोगों से अनुरोध है कि वे अपना टेस्ट जल्द कराएं।

वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जैसे ही इसकी जानकारी प्राप्त हुई, उन्होंने अखिलेश यादव से फोन पर बात की और उनका हालचाल जाना। भले ही अखिलेश यादव और योगी आदित्यनाथ के बीच राजनीतिक रिश्ते अच्छे न हों लेकिन दोनों के बीच अक्सर मुलाकात होती रहती है। अखिलेश के पिता मुलायम सिंह यादव की जब तबीयत खराब थी तो मुख्यमंत्री योगी उनसे मिलने भी गए थे। आपको बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में सपा प्रमुख अखिलेश संक्रमित हुए थे। फिलहाल अखिलेश समाजवादी विजय रथ यात्रा पर निकले हुए हैं।

टिप्पणियाँ

Popular Post