सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

नए वेरिएंट फैलने की आशंका : आश्रमों और गेस्ट हाउस में भी देना होगा अब कोरोना जांच का प्रमाणपत्र

  मथुरा / उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन शहर में दस विदेशी एवं एक देशी नागरिक के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी गेस्ट हाउसों एवं आश्रमों को कहा है कि वे अपने आने वाले हर देशी-विदेशी मेहमान का पूरा ब्योरा रखें और उनके पास कोरोना जांच का नेगेटिव प्रमाण पत्र होने के बाद ही उन्हें अपने यहां ठहराएं। गौरतलब है कि लंबे समय तक कोरोना वायरस का मामला नहीं आने के बाद बरती गई लापरवाही के बाद अब फिर से कोरोना संक्रमितों के मिलने का सिलसिला चल पड़ा है। वृन्दावन में पिछले सप्ताह से अब तक दस विदेशी एवं एक उड़ीसा की भारतीय नागरिक संक्रमित पाई जा चुकी है। तीन विदेशी जिला स्तर पर कोई सूचना दिए बिना यहां से लौट भी चुके हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने कहा है कि गेस्ट हाउस एवं आश्रम बाहर से आने वाले व्यक्तियों के रुकने से पूर्व उनके कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र एवं कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त कर ही उन्हें ठहराएं तथा ऐसा नहीं होने पर वे तत्काल स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट करें। उनके अनुसार नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। न

देहरादून : देहराखास में सेक्स रैकेट का खुलासा,आठ महिलाओं सहित 11 लोग गिरफ्तार

 


 देहरादून  /  पटेलनगर पुलिस ने देहराखास के टीएचटीसी कॉलोनी में एक फ्लैट में काफी समय से चल रहे अनैतिक देह व्यापार  का खुलासा करते हुए 11 महिलाओं और तीन पुरुषों को गिरफ्तार किया है। संचालक महिलाओं को भूटान, बांग्लादेश, सहित विभिन्न राज्यों से बुलाकर दून के होटलों, पर्यटन स्थलों में भेजता था। मौके से पुलिस ने बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामान बरामद किया है। 

पटेलनगर कोतवाल देवेंद्र चौहान ने बताया कि उन्हें काफी समय से देहराखास स्थित टीएचडीसी कॉलोनी में एक फ्लैट में अनैतिक देह व्यापार के संचालन की जानकारी मिल रही थी। जिसके संबंध में उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया और टीम गठित कर शनिवार रात फ्लैट में दबिश दी गई। दबिश के दौरान एक कमरे में दो महिला व दो पुरुष आपत्तिजनक स्थिति में पाए गए। एक अन्य कमरे को खोला गया तो उसमें छह महिलाएं मिलीं।  

पूछताछ करने पर संचालक राजीव ने बताया कि उसने यहां एक फ्लैट किराये पर ले रखा है। जहां देह व्यापार किया जा रहा था। मौके पर मौजूद महिलाओं ने बताया कि वह अलग-अलग राज्यों से देह व्यापार करने के लिए देहरादून आए हैं। वह संचालक के कहने पर ग्राहकों से फ्लैट के साथ ही अलग-अलग होटलों में जाती थी।


ग्राहकों से जितनी कीमत मिलती है, उसका आधा हिस्सा संचालक लेता था और बाकी उन्हें दिया जाता है। संचालक ही उन्हें ग्राहकों से मिलाता है और पैसे का लेन-देन करता है। इस मौके पर पुलिस को भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री, एक लैपटॉप, मोबाइल फोन आदि बरामद किए। 

पुलिस के मुताबिक संचालक राजीव ने ही टीएचडीसी कॉलोनी में किराये पर फ्लैट लिया था। वह भूटान, बांग्लादेश के साथ ही उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, दिल्ली आदि से लड़कियां व महिलाएं बुलाता था। जिनको देहरादून के पर्यटन स्थलों, होटलों और अन्य राज्यों में देह व्यापार के लिए भेजा जाता है। 

इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि ग्राहकों से संपर्क करने के लिए संचालक की ओर से दून स्कॉट सर्विस के लिंक और नंबर वेबसाइट स्कोका डॉट कॉम पर दे रखे थे। ग्राहकों को वह फ्लैट के साथ ही होटलों में बड़ी रकम लेकर लड़कियां सप्लाई करता था। 



टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव