लखनऊ पहुंचे राहुल गांधी, लखीमपुर में पीड़ित परिवारों से करेंगे मुलाकात

 

 



नई दिल्ली / उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा पर जबरदस्त राजनीति हो रही है। कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दल इस मामले में केंद्र और राज्य सरकार की घेराबंदी में जुट गए हैं। पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए लखनऊ जा रहे राहुल गांधी को यूपी सरकार ने लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत दे दी है। राज्य सरकार ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के अलावा तान अन्य लोगों को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति दी है।इससे पहले लखीमपुर खीरी जाने कोशिश कर रही प्रियंका गांधी को सीतापुर में हिरासत में रखा गया है।- लखीमपुर खीरी की घटना पर एडीजी (क़ानून-व्यवस्था), उत्तर प्रदेश प्रशांत कुमार ने कहा कि राज्य सरकार का स्पष्ट निर्देश था कि किसी भी कीमत पर दोषियों को बख्शा न जाए और पूरे पारदर्शी तरीक से कार्रवाई की जाए। प्रदेश सरकार ने अब पांच-पांच के समूह में लोगों को लखीमपुर खीरी जाने की अनु‍मति दे दी है। दरअसल, राज्‍य सरकार ने कानून व्‍यवस्‍था कायम रखने के लिए पाबंदी लगाई थी, किसी आंदोलन को रोकने के लिए नहीं। लेकिन अब जो शख्‍स वहां जाना चाहता है, वो जा सकता है।

The state govt has now permitted people in groups of five to visit Lakhimpur Kheri. Anyone who wants to go there can go now. The state govt had imposed restrictions to maintain law & order, not to restrict any movement: ADG, Law & Order, Prashant Kumar on Lakhimpur Kheri violence
 
 

 

 - कांग्रेस नेता राहुल गांधी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी लखीमपुर खीरी हिंसा में जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों से मिलने के लिए हवाई मार्ग से उत्तर प्रदेश के लखनऊ के लिए रवाना हुए।

Delhi: Congress leaders Rahul Gandhi, Bhupesh Baghel and Charanjit Channi onboard a flight to Lucknow, UP, to meet families of farmers who lost their lives in Lakhimpur Kheri violence

 

 - छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि धारा 144 में 5 से अधिक लोग इकट्ठे नहीं हो सकते। उससे कम लोग जा सकते हैं। कल भी मुझे गलत तरीके से रोका गया था। हमलोग पीड़ित परिवार तक पहुंचने का प्रयास करेंगे। आखिर ऐसी क्या बात है जिसे राज्य सरकार छुपाना चाहती है? ऐसा क्या है जिससे किसी को बचाना चाहती है।

- लखीमपुर खीरी ना जाने देने पर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार बाकी राजनीतिक दलों को जाने दे रही है। तृणमूल कांग्रेस के 5 सांसद वहां (लखीमपुर खीरी) गए, भीम आर्मी के हमारे मित्र दर्जनों लोगों के साथ वहां गए तो कांग्रेस के नेता क्यों नहीं जा सकते? हमारा क्या अपराध है?

- लखीमपुर खीरी घटना पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सवाल किया कि अभी तक हत्यारों को गिरफ्तार तक नहीं किया गया है। आज एक तरफ सरकार आजादी का अमृत महोत्सव मना रही है और दूसरी तरफ विपक्ष के नेता जब मृतक के परिवारों से मिलने जा रहे हैं तो उन्हें जेल में डाला जा रहा है ये कौन-सी आजादी का जश्न है।

- विपक्षी दलों द्वारा लखीमपुर खीरी जाने पर उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि लखीमपुर आपको जाना है तो कुछ दिन बाद चले जाइएगा। आप दुखद परिवारों से मिलें इसमें कोई आपत्ती नहीं है, लेकिन माहौल बिगाड़ने के लिए ईजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि स्थिति नियंत्रण हो जाए तो उनको जाने दिया जाएगा।

- लखीमपुर खीरी घटना पर एडीजी एसएन सबत का कहना है कि इस मामले में कार्रवाई चल रही है। हमारे पास बहुत सारी तस्वीरें हैं और हमने मीडिया से भी कहा है कि अगर किसी के पास वास्तविक तस्वीर है तो वो हमें उपलब्ध कराएं ताकि वो तस्वीरें हमें जांच में काम आए।

Comments