लखीमपुर खीरी हिंसा: लखनऊ तलब किये गये केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी , भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बुलाया

 


  लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त करने पर लगाए जा रहे कयासों के बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अजय मिश्र को लखनऊ बुलाया है। वहीं, खबर ये भी है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने स्वतंत्र देव सिंह को दिल्ली बुलाया है।लखीमपुर कांड ने भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। सरकार ने मंत्री पुत्र आशीष मिश्र को गिरफ्तार करने में हिचक दिखाई उससे जनता में साफ संदेश गया कि सरकार उन्हें बचाने का प्रयास कर रही है। इसके अलावा, प्रदेश भाजपा भी टेनी को लेकर सहज नहीं लग रही है।रविवार को स्वतंत्र देव सिंह ने भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बयान दिया कि हम नेतागिरी में किसी को लूटने या फॉर्च्यूनर से कुचलने के लिए नहीं आए हैं। उनका संदेश साफ था कि अब अनुशासनहीनता और पार्टी की छवि खराब करने की कोशिश बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लखीमपुर हिंसा में शनिवार देर रात केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष को गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।अटल कन्वेंशन सेंटर में आयोजित बैठक में स्वतंत्र देव ने कहा कि वोट कार्यकर्ता और पदाधिकारी के व्यवहार से मिलेगा। कार्यकर्ता जिस गली में रहते हैं, वहां के दस लोग उनकी प्रशंसा करते हैं तो खुशी होती है। वहीं, यदि लोग उन्हें देखकर छिप जाते हैं तो यह अच्छा संदेश नहीं है। राजनीति पार्टटाइम जॉब नहीं है। राजनीति को एक घंटे का समय देने से काम नहीं चलेगा। लोग समझते हैं कि राजनीति को एक घंटे का समय देकर पार्टी को भी खुश कर देंगे और परिवार को भी। लेकिन यह सोच गलत है।