लखीमपुर खीरी मामला : भाजपा नेता को अपशब्द बोलना पड़ा महंगा, पुलिस ने दिखाया जेल का रास्ता

 

 



गढ़मुक्तेश्वर / लखीमपुर खीरी में हिंसा में मारे गए किसानों के प्रति इंटरनेट मीडिया पर अपशब्द पोस्ट करने वाले भाजपा नेता कमल त्यागी को पुलिस ने शांतिभंग में निरुद्ध कर एसडीएम न्यायालय में पेश किया, जहां से कारागार भेज दिया गया। इस मामले में संबंधित पोस्ट को लेकर भाजपा नेता ने किसानों के बीच पहुंच कर माफी मांगी थी, जिसके बाद उन्हें माफ कर दिया गया था।नगर के मेरठ रोड निवासी भाजपा किसान मोर्चा के क्षेत्रीय कार्य समिति सदस्य कमल त्यागी ने इंटरनेट मीडिया के माध्यम से गत दिनों लखीमपुर खीरी में हिंसा के दौरान मारे गए किसानों के प्रति अपशब्द पोस्ट किया था। इसके बाद भाकियू नेताओं ने कोतवाली में हंगामा किया था। इस पर पुलिस ने कमल त्यागी के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। इधर, रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से कमल त्यागी फरार हो गए।पुलिस ने उसको गिरफ्तार करने के लिए उसके साथियों सहित रिश्तेदार, परिचितों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इस दौरान कमल त्यागी पुलिस को चकमा देकर खादर क्षेत्र में आयोजित किसानों की पंचायत में पहुंच गए और वहां उनसे से पोस्ट के संबंध में माफी मांगी। माफी मांगने पर किसानों ने ने उन्हें माफ करते हुए एक पत्र पर समझौता नामा लिख कर पुलिस को दे दिया। लेकिन, शाम के समय कमल त्यागी को हापुड़ कोतवाली पुलिस ने हिरासत में लिया। देर रात को गढ़ कोतवाली पुलिस कमल को लेकर गढ़ आई।