बदहाल व्यवस्था,बीमार अस्पताल: दून-कोरोनेशन अस्पताल में दुर्गंध में जी रहे डाक्टर.मेडिकल स्टाफ, प्रबंधन बेखबर

 

 



देहरादून  /  देहरादून के जिला कोरोनेशन अस्पताल और दून अस्पताल में डाक्टर्स कॉलोनी के बुरे हाल है। यहां पर गंदगी पसरी होने से डाक्टरों-मेडिकल स्टाफ में बीमारियां फैलने का खतरा बना है। उनमें कई बार शिकायत के बाद भी कार्रवाई न होने पर आक्रोश है।कोरोनेशन अस्पताल में पीछे की तरफ आवासीय कॉलोनी है। यहां पर कई महीनों से गंदगी बह रही है। नालियां बिल्कुल चोक हैं और उनमें गंदगी भरी है। कूड़ा करकट उनमें भरा पड़ा है। कई लोग यहां बीमार हो चुके हैं। सीएमएस को कई बार चिट्ठी लिखकर अवगत करा दिया गया है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। जिससे उनमें आक्रोश है। नई बिल्डिंग बनने के बाद तो कोई सुध नहीं ली जा रही है। गंदगी से डाक्टर और मेडिकल कर्मचारियों में आक्रोश बना है। सीएमएस डा. शिखा जंगपांगी का कहना है कि संबंधित अफसरों को कहा गया है कि वह इसका समाधान करें।उधर, दून अस्पताल के डाक्टरों एवं स्टाफ के आवासों के बाहर सीवर बह रहा है। जिससे मच्छरों एवं गंदगी से जीना मुहाल हो गया है। कई बार शिकायत के बाद भी यहां पर सीवर लाइन की मरम्मत नहीं कराई जा रही है। | अस्पताल के सरकारी आवासों में जो परिवार रहते हैं वह काफी दिनों से परेशान हैं। यहां गंदगी से बदबू आती है और बीमारियों के पैदा होने का खतरा बना है। अफसरों को कई बार कहा गया लेकिन कोई अमल नहीं किया जा रहा है। इसके खिलाफ उन्होंने आंदोलन की चेतावनी भी दी है। उधर, प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना का कहना है कि एमएस को निर्देशित किया गया है कि वो कार्यदायी संस्था से समन्वय बनाकर समस्या का समाधान कराएं।

Comments