संत समिति के प्रदेश अध्यक्ष के साथ मारपीट, एक पुलिस हिरासत में

 


  ऋषिकेश /  अखिल भारतीय संत समिति के उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष व ब्रह्मपुरी स्थित श्री राम तपस्थली आश्रम के महामंडलेश्वर स्वामी दयाराम दास महाराज के साथ पड़ोस के ही आश्रम में रहने वाले कुछ व्यक्तियों ने मारपीट कर उन्हें धमकी दी। उसके बाद पीड़ित संत ने पुलिस को बुलाकर संबंधित आश्रम के महंत और उसके शिष्य के खिलाफ शिकायत पत्र दिया। पुलिस ने इस मामले में एक हमलावर को हिरासत में लिया है। ऋषिकेश बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर ब्रह्मपुरी स्थित श्रीराम तपस्थली के महा मंडलेश्वर स्वामी दयाराम दास महाराज का आश्रम है। साध्वी उमा भारती उत्तराखंड की यात्रा में जब भी आती है तो आश्रम में प्रवास अवश्य करती है। वह विरक्त वैष्णव मंडल के कार्यकारी अध्यक्ष भी है। उन्होंने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब 11:00 बजे आश्रम के बगल में एक अन्य आश्रम संचालक ने अपने शिष्यों के साथ आश्रम के नाले को बंद कर दिया। मौके पर जाकर उन्होंने ऐसा ना करने के लिए कहा तो उन पर हमला किया गया।वह अपनी जान बचाकर आश्रम में पहुंचे। हमलावर पीछे से वहां भी पहुंच गए। स्वामी दयाराम दास का आरोप है कि हमला करने वालों ने उन पर तमंचे की पिछले हिस्से से भी वार किया, उनके कपड़े फट गए। हमलावरों ने उनसे प्रतिमाह रंगदारी देने के लिए भी दबाव डाला।सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची संत को उपचार के लिए राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश भेजा गया। मुनिकीरेती के प्रभारी निरीक्षक कमल मोहन जोशी ने बताया कि स्वामी दयाराम दास की ओर से लिखित शिकायत पत्र प्राप्त हुआ है। जिसमें सुरेश दास और उनके शिष्य दीपक पर मारपीट व अन्य आरोप लगाए गए हैं। पुलिस की टीम मौके पर गई थी। वहां से एक युवक को हिरासत में लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।