प्लास्टिक से बने तिरंगे के इस्तेमाल पर लगाएं रोक, सरकार ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को दिया निर्देश

 


नयी दिल्ली /  स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले केंद्र सरकार ने राज्यों को राष्ट्रीय ध्वज से जुड़ा हुआ एक निर्देश दिया है। सरकार ने राज्यों से कहा है कि आप सब यह सुनिश्चित करें कि लोग प्लास्टिक के झंडों का इस्तेमाल न करें। दरअसल, स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के मौके पर लोग तिरंगा झंडा खरीदते हैं और रैलियों से लेकर घरों तक में उनका इस्तेमाल किया जाता है। बाजारों में प्लास्टिक के झंडों की बिक्री भी होती है। ऐसे में सरकार ने इस पर रोक लगाने की अपील की है। इस संबंध में गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि तिरंगा देश के लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करता है, ऐसे में इसका पूरा सम्मान किया जाना चाहिए। गृह मंत्रालय ने पत्र में लिखा है कि कई मौकों पर कागज के झंडों की जगह पर प्लास्टिक के झंडों का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके उचित निपटान करने में व्यवहारिक दिक्कतें पैदा होती हैं। ऐसे में यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि प्लास्टिक के झंडों का इस्तेमाल न हो। गौरतलब है कि स्वतंत्रता दिवस के 75 साल पूरे होने पर केंद्र सरकार स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मनाने जा रही है। इस दौरान अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इतना ही नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से सांसदों को 75 गांवों में जाने के निर्देश दिए गए हैं।

Sources:PSsamachar