PM मोदी की जनसभा में RSS की काली टोपी से भी परहेज, पुलिस ने उतरवाई

 

 



वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम के दौरान जिला प्रशासन ने अतिरिक्त सतर्कता बरती। जनसभा स्थल पर बिना कार्ड वालों को पहले ही  घुसने नहीं दिया गया। कार्ड के साथ पहुंचे लोगों को भी कड़ी सुरक्षा के बाद अंदर जाने की इजाजत मिली। इस दौरान काले कपड़े, काली टोपी यहां तक कि काला मास्क लगाए लोगों को भी नहीं जाने दिया गया। आरएसएस कार्यकर्ता अपनी पारंपरिक काली टोपी में आया तो उसकी टोपी भी पुलिस वालों ने उतरवा ली।

बीएचयू के आईआईटी मैदान में पीएम मोदी की जनसभा हुई। काली टोपी या काल कपड़ा पहने वालों को अंदर जाने ही नहीं दिया गया। कपड़ा या टोपी उतारने पर ही अंदर जाने की इजाजत दी गई। आरएसएस की यूनिफार्म में काली टोपी लगाकर पहुंचे कार्यकर्ता को भी रोक दिया गया। अंदर जाने की अनुमति नहीं मिली। काली टोपी को पुलिस वालों ने अपने पास रख लिया तभी कार्यकर्ता अंदर जा सका। इसी तरह काला मास्क लगाए लोगों को भी अंदर नहीं जाने दिया गया। कई लोग इस वजह से अंदर नहीं जा सके तो कुछ लोगों ने तत्काल मास्क बदल दिया।पीएम मोदी ने वाराणसी को करीब 1500 करोड़ रुपये की सौगात दी है। जनसभा के दौरान पीएम मोदी के संबोधन में मिशन 2022 की झलक साफ दिखाई दी। उन्होंने सीएम योगी की खूब तारीफ की और यूपी में हुए बदलाव का बखान किया।