PM मोदी ने रुद्राक्ष सेंटर का किया उद्घाटन, बोले-जब दुनिया ठहर गई तब भी काशी में बहती रही सृजन की धारा

  


 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। प्रधानमंत्री ने बीएचयू के मैदान से बटन दबाकर 1583 करोड़ की 280 योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्‍यास किया। पीएम की आज की सौगातों में रुद्राक्ष कन्‍वेंशन सेंटर का उद्घाटन भी शामिल है। बीएचयू की जनसभा में पीएम मोदी ने कोरोना की दूसरी लहर में यूपी सरकार के कामों को अभूतपूर्व बताया। उन्‍होंने योगी सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि आज यूपी में तेजी से विकास हो रहा है क्‍योंकि सीएम योगी खुद कड़ी मेहनत करते हैं। उन्‍होंने कहा कि आज यूपी में भ्रष्‍टाचार और भाई-भतीजावाद नहीं विकास वाद पर सरकार चल रही है। उन्‍होंने कहा कि यूपी में हुए विकास के कामों की लिस्‍ट इतनी लंबी है कि वक्‍त की कमी के चलते उन्‍हें सोचना पड़ता है कि कौन सी योजनाओं के बारे में बताएं और किन्‍हें छोड़ दें।

पीएम बोले-जापान सबसे विश्‍वसनीय मित्र

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार दोपहर रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर की शुरुआत भी की। यह कन्वेंशन सेंटर जापान की सहायता से तैयार किया गया है। यह सेंटर अत्‍याधुनिक सुविधाओं से युक्‍त है। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने जापान को भारत का सबसे विश्‍वसनीय मित्र बताया और धन्‍यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि लंबे समय बाद उनका वाराणसी आना हुआ है लेकिन इस मौके पर काशी ने विकास के कामों की झड़ी लगा दी है। पीएम ने कहा कि कोरोना काल में जब दुनिया ठहर सी गई, तब काशी संयमित तो हुई, अनुशासित भी हुई, लेकिन सृजन और विकास की धारा अविरल बहती रही। काशी के विकास के ये आयाम, ये ‘इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर- रुद्राक्ष’ आज इसी रचनात्मकता का इसी गतिशीलता का परिणाम है।  जब पिछले 7 सालों में इतनी सारी विकास परियोजनाओं से काशी का श्रंगार हो रहा है, तो ये श्रंगार बिना रुद्राक्ष के कैसे पूरा हो सकता था? अब जब ये रुद्राक्ष काशी ने धारण कर लिया है, तो काशी का विकास और ज़्यादा चमकेगा और ज़्यादा काशी की शोभा बढ़ेगी। भारत और जापान की सोच है कि हमारा विकास हमारे उल्लास के साथ जुड़ा होना चाहिए। ये विकास सर्वमुखी होना चाहिए, सबके लिए होना चाहिए और सबको जोड़ने वाला होना चाहिए।