सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

राम रहीम से मिलने मेदांता अस्पताल पहुंची हनीप्रीत, अटेंडेंट का कार्ड भी बनवाया

गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराए गए रेप के मामले में सजायाफ्ता डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम (53) से सोमवार को मिलने को हनीप्रीत अस्पताल पहुंची। अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, हनीप्रीत सुबह आठ बजे अस्पताल पहुंची थी। यहां पहुंचने के बाद हनीप्रीत ने कोरोना संक्रमित राम रहीम के अटेंडेंट के तौर पर अपना पास बनवाया। यह पास एक सप्ताह यानी 15 जून तक मान्य रहेगा। इस पास के जरिये हनीप्रीत राम रहीम के अटेंडेंट के तौर पर अस्पताल में रुक सकती है और डॉक्टरों से उसका हाल-चाल पूछ सकती है। वहीं, वह राम रहीम के कोविड निगेटिव होने से बाद उससे मिल भी सकती है। हालांकि, अस्पताल प्रबंधन इस मामले में कुछ भी बोलने से बच रहा है। बता दें कि रोहतक जिले की सुनारिया जेल में सजा काट रहे राम रहीम को तबीयत बिगड़ने पर सुनारिया जेल से पहले रोहतक पीजीआई और फिर कुछ जांचों के लिए रविवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया था। यहां उसकी कोविड जांच भी की गई थी। अस्पताल सूत्रों के अनुसार, कोरोना जांच के दौरान राम रहीम की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आई थी, लेकिन सीटी स्कैन जांच में डॉक्टरों के मुताबिक उसमें कोविड संक्रमण पाया गया है। राम रहीम का इलाज अस्पताल में पुलिस सुरक्षा के बीच चल रहा है। इससे पहले, गुरुवार को पेट में दर्द की शिकायत के बाद राम रहीम की रोहतक पीजीआईएमएस में कुछ जांचें की गई थीं।वहीं, गुरुग्राम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. वीरेंद्र यादव ने सोमवार को एएनआई को बताया कि गुरुग्राम के मेदांता मेडिसिटी में भर्ती डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह कोरोना संक्रमित नहीं है और उसकी COVID-19 जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है।गौरतलब है कि डेरा प्रमुख अपनी दो महिला अनुयायियों से बलात्कार के मामले में दोषी पाए जाने के बाद 2017 से ही सुनारिया जेल में बंद है। पंचकूला में एक विशेष सीबीआई अदालत ने अगस्त 2017 में उसे बलात्कार के दो मामलों में 20 साल की जेल की सजा सुनाई थी। वह फिलहाल रोहतक की हाई सिक्योरिटी वाली सुनारिया जेल में बंद है। Sources:Hindusta Samachar

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव