सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

यूपी- कोरोना कर्फ्यू में हुई ढ़ील तो बेलगाम हुए बदमाश,शहर में ताबड़तोड़ वारदातेों से पुलिस की नींद हराम

 

 


  कोरोना कर्फ्यू की बंदिशें कम होते ही अपराधी बेलगाम हो गए हैं। बदमाश कारोबारियों से रंगदारी मांग रहे हैं तो चोरी, लूट, झपटमारी सहित अन्य घटनाओं को बेखौफ होकर अंजाम दे रहे हैं। ऐसे में शहरवासियों में फिर से सुरक्षा को लेकर चिंता और पुलिस के लिए चुनौती बढ़ गई है।


केस - 1


मेरठ के लालकुर्ती थाना क्षेत्र के टैंक चौराहे के निकट बाइक सवार बदमाशों ने स्पोर्ट्स कारोबारी से मोबाइल लूट लिया। जेल चुंगी बलवंत नगर निवासी गौतम सूरी खेल का सामान बनाते हैं। शुक्रवार शाम वह कंकरखेड़ा में परिचित से मिलकर स्कूटी पर सवार होकर घर लौट रहे थे। रुड़की रोड पर टैंक चौराहे से आगे शिव मंदिर पासपल्सर सवार दो बदमाशों ने उनकी जेब पर झपट्टा मारकर मोबाइल लूट दिया। कारोबारी ने स्कूटी से बदमाशों का पीछा किया तो बदमाश ने पिस्टल दिखाकर धमकाया। सहमे कारोबारी ने स्कूटी रोक ली। इसके बाद बदमाश माल रोड पर लालकुर्ती थाने के सामने से फरार हो गए। कारोबारी सीधे बेगम पुल पुलिस चौकी पहुंचे और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को घटना की जानकारी दी। पुलिसकर्मियों ने मामला दूसरे थाना क्षेत्र का बताकर उन्हें लालकुर्ती थाने भेज दिया। पीड़ित ने लालकुर्ती में तहरीर दी। थाना पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण भी किया।

केस - 2
लिसाड़ी गेट थाने के पास दुकान में लूटपाट


मेरठ के लिसाड़ी गेट थाने के पास शुक्रवार को चार बदमाशों ने दिनदहाड़े कन्फेक्शनरी की दुकान में लूटपाट कर दी। बदमाश गल्ले से 30 हजार रुपये लेकर फरार हो गए। घटना के बाद पुलिस पहुंची और बदमाशों की तलाश शुरू की। कोतवाली के गुदड़ी बाजार निवासी शाने आलम की लिसाड़ी गेट चौराहे के पास डायमंड ट्रेडर्स के नाम से कन्फेक्शनरी की दुकान है। शुक्रवार दोपहर तीन बजे शाने आलम दुकान पर अकेले बैठे थे। इसी दौरान हथियारों से लैस चार बदमाश दुकान पर पहुंच गए। बदमाशों ने पहले दुकानदार को पीटा और फिर लूटपाट की।बदमाशों के जाने पर दुकानदार ने शोर मचाया तो आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। बाद में शाने आलम के पिता इरशाद भी पहुंचे। लोगों ने बताया कि जिस समय बदमाश लूटपाट कर रहे थे। उसी दौरान लिसाड़ी गेट थाने की फैंटम भी वहां से निकली थी। दिनदहाड़े लूट की घटना से स्थानीय लोगों में पुलिस के प्रति आक्रोश है। एसपी सिटी विनीत भटनागर का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। 


केस - 3
हाईवे पर कैंटर लूट की सूचना से मचा हड़कंप


मेरठ से मुजफ्फरनगर सामान छोड़ने के बाद चालक ने मालिक को सूचना दी कि उसके साथ मारपीट कर कैंटर लूट लिया गया है। इससे हड़कंप मच गया। मालिक और पल्लवपुरम पुलिस चालक और कैंटर की तलाश में जुट गई। शाम को कैंटर बागपत रोड स्थित एक गोदाम पर खड़ा मिला। बाद में पता चला कि चालक ने शराब के नशे में गलत सूचना दी थी।मूल रूप से हरदोई और हाल में परतापुर निवासी चालक हरबीर गगोल के रहने वाले सरफराज का कैंटर चलाता है। शुक्रवार सुबह वह कुछ सामान लेकर मुजफ्फरनगर गया था। वहां से लौटते समय उसने बाईपास स्थित जटौली फलाईओवर के पास पंप पर सीएनजी डलवाई। इसके बाद चालक ने मालिक को कैंटर लूटने की सूचना दी। मालिक सरफराज ने पल्लवपुरम पुलिस को घटना के बारे में बताया और स्वयं भी पहुंच गए। वहां पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखी। इसमें चालक पंप से जाते हुए दिखाई दिया, लेकिन मारपीट नहीं दिखी। चालक का मोबाइल भी बंद मिला। पुलिस दोपहर से चालक और कैंट की तलाश में लगी थी। शाम सात बजे कैंटर बागपत रोड स्थित एक गोदाम पर मिला। वहीं पर चालक भी था। कैंटर सहित चालक को पुलिस थाने ले आई। यहां पूछताछ में पता चला कि चालक शराब के नशे में था और उसके साथ कोई लूटपाट नहीं हुई। इंस्पेक्टर पल्लवपुरम देवेश शर्मा ने बताया कि चालक ने नशे की हालत में गलत सूचना दी थी।

केस - 4
पार्षद की तीन दुकानों का ताला तोड़कर चोरी


बाईपास स्थित परतापुर तिराहे के पास पार्षद विशाल चौधरी की तीन दुकानों का ताला तोड़कर चोरों ने लाखों का सामान चोरी कर लिया। घटना के बाद व्यापारियों और क्षेत्र के लोगों ने रोष जताया। पार्षद विशाल की बाईपास पर तीन दुकानें हैं। गुरुवार रात चोरों ने इन दुकानों से वाशिंग मशीन, एअर प्रेशर, वाटर पंप, रबर एडॉप्टर, वायर बंडल, पंखे, इनवर्टर, कूलर सहित अन्य सामान चोरी किया। इसके अलावा सात हजार रुपये भी चोरी किए गए।दो दिन पूर्व भी दुकानों का किराए लेने पहुंचे पार्षद से बाइक सवार बदमाशों ने मोबाइल लूट लिया था। माना जा रहा है कि इन्हीं बदमाशों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया है। पार्षद और क्षेत्र के अन्य व्यापारियों ने लगातार हो रही घटनाओं पर रोष जताया। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि परतापुर पुलिस जल्द कार्रवाई नहीं करती है तो आला अफसरों से संपर्क किया जाएगा।

Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post