सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

महान एथलीट मिल्खा सिंह के बारे में अफवाहें न फैलाएं-रिजिजू

खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने शनिवार को कहा कि भारत के गौरव मिल्खा सिंह जी के बारे में अफवाहें न फैलाएं। उनकी हालत स्थिर है। उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करें। कृपया झूठी खबरें न चलाएं।दरअसल, शनिवार सुबह से ही 'फ्लाइंग सिख' के निधन की खबरें सोशल मीडिया पर चल रही थीं। हालांकि, इन खबरों को अस्पताल के अधिकारियों ने खारिज कर दिया और मिल्खा सिंह के बारे में ताजा जानकारी दी। 
Kiren Rijiju @KirenRijiju Please don't run false news and create rumors about the legendary athlete and pride of India Milkha Singh Ji. He is stable and let's pray for his fast recovery🙏 अधिकारियों ने कहा, कोविड-19 संक्रमण से जूझ रहे महान भारतीय फर्राटा धावक मिल्खा सिंह की हालत स्थिर है और कल से बेहतर है जिनका इलाज यहां के पीजीआईएमईआर (स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान) अस्पताल में चल रहा है। पीजीआईएमईआर ने कहा कि मिल्खा सिंह शुक्रवार की तुलना में बेहतर हैं। गुरुवार को उन्हें ऑक्सीजन स्तर में गिरावट के बाद अस्पताल में लाया गया था। बयान में यह सूचित किया गया कि 91 वर्षीय मिल्खा की निगरानी तीन डॉक्टरों की टीम रख रही है। उन्हें गुरूवार को ऑक्सीजन के गिरते स्तर के बाद अस्पताल लाया गया था। बता दें कि शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए फोन किया था। पीएम मोदी ने मिल्खा से बात की और उम्मीद जताई कि वह जल्द ही स्वस्थ्य होकर तोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को आर्शीवाद देंगे और उन्हें प्ररित करेंगे। Sources:AmarUjala

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव