सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

नेपाली फार्म में नहीं बनेगा टोल प्लाजा: विधानसभा अध्यक्ष

ऋषिकेश / नेशनल हाईवे पर नेपाली फार्म तिराहे के पास टोल प्लाजा नहीं बनेगा। ये बात विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कही। उन्होंने कहा कि 24 मई को टोल प्लाजा बनने का मामला सामने आया। इसको लेकर मुख्यमंत्री से लेकर केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से बात की, जिसके बाद ये फैसला लिया गया। नेपाली फार्म में टोल प्लाज नही बनेगा, यानी यहां टोल टैक्स नहीं लगेगा। विधानसभा अध्यक्ष ने केंद्रीय मंत्री निशंक और मुख्यमंत्री का धन्यवाद देते हुए कहा कि जो लोग टोल प्लाजा के लिए धरने पर बैठे है, वह धरना समाप्त करें। उन्होंने ये भी कहा कि मेरे विधानसभा सभा क्षेत्र में जो जगह टोल प्लाज के लिए चिह्नित की गई थी, वहां टोल प्लाजा नहीं लगेगा।प्रदेश अध्यक्ष ने टोल प्लाजा ना लगाए जाने का दिया आश्वासनइससे पहले इस मामले को लेकर नगर निगम महापौर अनीता ममगाईं के नेतृत्व में ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के एक प्रतिनिधि मंडल ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से मुलाकात की। इस दौरान उन्हें टोल प्लाजा न लगाए जाने की मांग को लेकर उन्हें एक ज्ञापन सौंपा गया। शनिवार की दोपहर नगर निगम महापौर के नेतृत्व में ग्रामीण क्षेत्र के प्रतिनिधि मंडल ने कुंभ नगरी हरिद्वार में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से मुलाकात की। महापौर ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को बताया कि कोरोना काल में यदि टोल प्लाजा लगा तो यह सीधे जनता पर अतिरिक्त भार होगा।इसकी कीमत हरिद्वार-देहरादून हाईवे पर सफर करने वालों को तो चुकानी ही पड़ेगी। साथ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों पर भी इसकी मार पड़ेगी। महापौर ने टोल प्लाजा के विरोध में ग्रामीणों के आंदोलन की भी विस्तृत जानकारी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को दी। नगर निगम महापौर व जनप्रतिनिधियों की तमाम बातें सुनने के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने आश्वासन देते हुए कहा कि वह किसी भी हाल में टोल प्लाजा को नहीं लगने देंगे और जल्द ही उनके द्वारा धरना स्थल पर जाकर आंदोलन को समाप्त कराया जाएगा। प्रतिनिधि मंडल में जिला पंचायत सदस्य संजीव चौहान, प्रधान संगठन अध्यक्ष विजयपाल जेठूढी, पूर्व प्रदेश महामंत्री युवा मोर्चा मनोज जखमोला, मंजीत राठौड़ आदि शामिल थे।

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव