सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

मौसम अलर्ट- देहरादून,अल्मोड़ा,नैनीताल में सात जून तक बरसेंगे मेघ

उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में सात जून तक बारिश का सिलसिला बने रहने की उम्मीद है। मौसम विभाग के मुताबिक आज उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ जिलों के कुछ स्थानों और देहरादून, टिहरी, अल्मोड़ा, नैनीताल में कहीं कहीं हल्की से मध्यम बारिश, गर्जना की संभावना है। शेष जिलों में मौसम शुष्क रहेगा। मौसम विभाग के प्रभारी निदेशक रोहित थपलियाल ने बताया कि शुक्रवार को सभी पर्वतीय जिलों में मौसम खराब रहेगा। 5 जून को उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ में कुछ स्थान व देहरादून, टिहरी, अल्मोड़ा, नैनीताल में कहीं कहीं हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। 6 व 7 को भी पर्वतीय जिलों में हल्की से मध्यम बारिश रहेगी। आठ व नौ को भी मौसम में बदलाव की संभावना कम है। मौसम केन्द्र ने पिछले 24 घंटों में राज्य के अल्मोड़ा, देहरादून, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी व बागेश्वर जिलों में बारिश दर्ज की है। दक्षिण पश्चिम मानसून बढ़ा आगे दक्षिण पश्चिम मानसून दक्षिण अरब सागर, लक्षद्वीप क्षेत्र, दक्षिण केरल के कुछ हिस्सों से आगे बढ़ गया है। केरल में दो दिन की देरी से गुरुवार को मानसून ने दस्तक दे दी है। अब यह तमिलनाडू, पंडुचेरी, तटीय व दक्षिण आंतरिक कनार्टक के कुछ हिस्से, दक्षिण व मध्य खाड़ी के रास्तों से अगले दो दिनों में बंगाल में प्रवेश कर सकता है।

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव