बेहतर कानून व्यवस्था में उत्तराखंड टॉप पर

देहरादून / नीति आयोग ने सतत विकास लक्ष्यों के लिए सूचकांक (एसडीजी) इंडिया सूचकांक 2020-21 की रिपोर्ट जारी कर दी है। एसडीजी रिपोर्ट के शीर्षक 16 में कानून और शांति व्यवस्था, न्याय और सुदृढ़ संस्थानों के विकास को महत्व दिया गया है। इसका आंकलन आठ बिंदुों के मापदंड के आधार पर किया गया है। यह उत्तराखंड पुलिस और राज्य के लिए अत्यंत गर्व का विषय है कि इन सभी बिंदुओं पर बेहतरीन कार्य करते हुए राज्य ने 86 अंकों के साथ इस श्रेणी में शीर्ष स्थान पर अपनी जगह बनाई है। गुजरात दूसरे और मिजोरम तीसरे स्थान पर हैं।नीति आयोग एसडीजी इंडिया इंडेक्स में राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों की सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरण के क्षेत्र में प्रगति को मापता है और इसी के आधार उनका आंकलन करता है। उत्तराखंड को सभी श्रेणियों को सम्मिलित करते हुऐ देश में संयुक्त रूप से तीसरा स्थान मिला है। इस सम्मान से न केवल उत्तराखंड पुलिस, बल्कि उत्तराखंड शासन के सभी विभागों का मनोबल बढ़ा है।पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने इस सम्मान के लिए नीति आयोग के प्रति आभार व्यक्त किया है। इस उपलब्धि को प्राप्त करने का श्रेय उत्तराखंड शासन से मिल रहे निरंतर समर्थन और पुलिस के हर अधिकारी और कर्मचारी के अथक परिश्रम को जाता है। हमारा सतत प्रयास रहेगा कि आने वाले वर्षों में हम लगातार देश के सर्वेश्रेष्ठ राज्यों में अपना स्थान बनाए रखें।