सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

मार्च से लगेगी 12 से 14 साल तक के बच्चों को वैक्सीन

जैसा की मालूम है कि देश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान बहुत तेजी से चल रहा है। इसी कड़ी में 3 जनवरी से सरकार ने 15 से 18 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरू किया था। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए बूस्टर डोज की भी शुरुआत हो चुकी है।]  इन सबके बीच बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर अच्छा समाचार आ रहा है। आपको बता दें देश में मार्च महीने से 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन लगना शुरू हो जाएगा। इस बात की जानकारी टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के प्रमुख एनके अरोड़ा ने दी। आपको बता दें कि देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड.19 रोधी टीकों की 157.20 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर बताया कि 3 जनवरी से अब तक 15.18 आयु वर्ग के 3.5 करोड़ से अधिक बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज़ लगा दी गई है।  वहीं देश में टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसने वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई को बेहद मजबूत बनाया और इसके चलते ही लो

चक्रवात यास के कारण बादलों ने गिराया पारा

पूर्वांचल में मौसम का रुख बदला हुआ है, अनुमानों के विपरीत बादलों की पूर्ववत हालात बने हुए हैं। मौसम विज्ञानी मान रहे हैं कि आने वाले दिनों में भी बादलों की आवाजाही का दौर बना रहेगा। लेकिन, आसमान में सूरज की रोशनी होने के बाद उमस का स्‍तर भी बढ़ जाएगा। मौसम विज्ञानी बंगाल की खाड़ी से उठे तूफान को लेकर पहले से ही अलर्ट कर चुके थे। हालांकि, अब इसका असर काफी हद तक कम हो चुक‍ा है। पर्याप्‍त नमी मिली तो बारिश और बादलों की सक्रियता का भी दौर आएगा।शनिवार की सुबह आसमान में बादलों की सक्रियता का दौर बना रहा, रात से ही रह रहकर कई इलाकों में बूंदाबांदी का दौर बना रहा। सुबह ठंडी हवाओं के जोर के बीच वातावरण में बादलों की सक्रियता का असर भी दिखा। मौसम विज्ञानी मान रहे हैं कि प्री मानसूनी मौसम का रुख अनुकूल बना हुआ है। ऐसे में बादलों की विदायी के बाद भी वातावरण में पर्याप्‍त नमी मिलने के बाद बारिश का भी दौर आ सकता है। मौसम का रुख बदला तो आने वाले दिनों में उमस का भी स्‍तर बढ़ेगा। जबकि मानसून का रुख धीरे धीरे आ रहा है। उम्‍मीद है कि पखवारे भर बाद यह पूर्वांचल में दस्‍तक दे देगा और 20 जून तक बारिश का क्रम भी शुरू हो जाएगा। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post