सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

पश्चिम बंगाल: भवानीपुर से चुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी

 

 



पश्चिम बंगाल से एक बड़ी खबर आ रही है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भवानीपुर से उप चुनाव लड़ेंगी। टीएमसी के दिग्गज नेता एवं पश्चिम बंगाल के मंत्री शोभनदेब चट्टोपाध्याय ने कहा कि वह भवानीपुर विधानसभा सीट छोड़ देंगे। 3 सप्ताह पहले ही वह यहां से चुनाव जीते हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया कि मौजूदा विधायक शोभनदेब चट्टोपाध्याय के इस्तीफा देने के बाद टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी भवानीपुर सीट से विधानसभा उपचुनाव लड़ सकती हैं।आपको बता दें कि ममता बनर्जी भवानीपुर से चुनाव जीतते आ रही हैं। हालांकि इस बार के विधानसभा चुनाव में उन्होंने भवानीपुर की बजाय नंदीग्राम से चुनाव लड़ा था। नंदीग्राम में उन्हें अपने करीबी रहे और वर्तमान में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी से हार का सामना करना पड़ा था। ममता बनर्जी वर्तमान में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री है। परंतु मुख्यमंत्री बने रहने के लिए उन्हें 6 महीने के भीतर सदन का सदस्य होना जरूरी है।

टिप्पणियाँ

Popular Post