सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

मार्च से लगेगी 12 से 14 साल तक के बच्चों को वैक्सीन

जैसा की मालूम है कि देश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान बहुत तेजी से चल रहा है। इसी कड़ी में 3 जनवरी से सरकार ने 15 से 18 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरू किया था। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए बूस्टर डोज की भी शुरुआत हो चुकी है।]  इन सबके बीच बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर अच्छा समाचार आ रहा है। आपको बता दें देश में मार्च महीने से 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन लगना शुरू हो जाएगा। इस बात की जानकारी टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के प्रमुख एनके अरोड़ा ने दी। आपको बता दें कि देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड.19 रोधी टीकों की 157.20 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर बताया कि 3 जनवरी से अब तक 15.18 आयु वर्ग के 3.5 करोड़ से अधिक बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज़ लगा दी गई है।  वहीं देश में टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसने वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई को बेहद मजबूत बनाया और इसके चलते ही लो

राहत भरी खबर,शुरू हुआ दून रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का आरक्षण

देहरादून / प्रदेश की राजधानी दून में कोरोना की दुसरी लहर में बढ़ते मामलों के बाद रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का आरक्षण बंद कर दिया था। लेकिन अब जिस तरह से कोरोना संक्रमण के मामले कम होते जा रहे है, उसको देखते हुए लवे स्टेशन पर ट्रेनों का आरक्षण शुरू हो गया है। रेलवे स्टेशन पर यात्री सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक ट्रेनों का आरक्षण करा सकेंगे। साथ ही रेलवे स्टेशन पर एक पाली के बजाय दोनो पालियों में आरक्षण किए जाएगें। स्टेशन पर ट्रेनों का आरक्षण शुरू होने के बाद यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। देहरादून रेलवे स्टेशन के आरक्षण ऑफिस में तैनात कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए थे। जिस कारण मंडल मुख्यालय से मिले अधिकारियों के निर्देशन पर दो पालियों में होने वाले आरक्षण को कम करते हुए सिर्फ एक पाली में कर दिया गया था। साथ ही आरक्षण की सुविधा सुबह 8 बजे से लेकर 2 बजे तक कर दी गई थी। जिसके चलते यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था और आरक्षण ऑफिस का कम समय होने के कारण यात्रियों को आरक्षण के लिए काफी देर तक इंतजार करना पड़ रहा था।मुख्य आरक्षण पर्यवेक्षक संजय अमन ने बताया कि यात्रियों को हो रही दिक्कतों को देखते हुए रेलवे ने यह निर्णय लिया है कि यात्री अब सुबह 8 बजे से लेकर रात के आठ बजे तक ट्रेनों का आरक्षण कराने के साथ ही पहले से कराए गए आरक्षण को कैंसिल करा सकते है। साथ ही स्टेशन पर दो पालियों में ट्रेनों का आरक्षण होने के बाद यात्रियों को ज्यादा इंतजार नहीं करना होगा।

टिप्पणियाँ

Popular Post