अलीगढ़ देशी शराब कांड- जहरीली बनी शराब ने अब निगली 73 जानें, गिरफ्तार हुआ 50 हजार का इनामी

अलीगढ़ / अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी(AMU) जैसा संस्थान देने वाले अलीगढ़ में देशी शराब के प्रति लोगों का लगाव इसके जहरीली होने से अब तक 73 लोगों की जान ले चुका है। कई गांव में गुरुवार रात से शुरू हुआ मौत का सिलसिला सोमवार तड़के तक जारी है। अलीगढ़ में थाना महुआखेड़ा क्षेत्र के गांव धनीपुर में शराब पीने से दो लोगों की और जान चली गई। पांच लोग गंभीर हैं। अब तक कुल 73 लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस ने इसके दो मुख्य गुनहगारों में से एक को पकड़ लिया है। चार और लोगों को भी पुलिस ने पकड़ा है, जो कि देशी शराब बेचते थे। पुलिस की तरफ से अलीगढ़ के साथ ही एटा, मैनपुरी, गौतमबुद्धनगर तथा आगरा में दूसरे 50 हजार के इनामी अन्य की तलाश जारी है। जिला प्रशासन ने शासन को जो रिपोर्ट भेजी है, उसमें मृतकों की संख्या को 25 दर्शाया गया है। इस दौरान सभी मृतक का पोस्टमार्टम भी हो गया है। जिले में रविवार को 20 और लोगों की मौत हो गई, जबकि दो ने सोमवार सुबह दम तोड़ा है। अब तक मरने वालों की संख्या 73 हो गई है। इनका पोस्टमार्टम हो चुका है। अभी भी गंभीर हालत में लोग जिला अस्पताल में भर्ती हैं, जिसके कारण मृतक संख्या अभी और बढ़ सकती है।इस केस में पुलिस ने 50 हजार रुपये के इनामी माफिया मैनपुरी के विपिन यादव सहित 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। अब तक कुल 16 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। विपिन की निशानदेही पर अकराबाद क्षेत्र में देर रात एक फैक्ट्री में छापा मारकर बड़ी मात्रा में अवैध शराब व नकली शराब बनाने में उपयोग होने वाला केमिकल, रैपर, ढक्कन बरामद किए। कल शराब माफिया अनिल चौधरी व नरेंद्र को तीन दिन की रिमांड पर लिया गया है। इस बीच पूछताछ में कुछ और माफिया के नाम सामने आए हैं। पुलिस की छह टीमें आरोपितों की धरपकड़ में लगी हैं। एटा-मैनपुरी व नोएडा में भी दबिश दी जा रही है। Sources: जेएनएन