सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

लखीमपुर खीरी हिंसा: जांच कर रही एस.आई.टी ने चश्मदीद गवाहों से साक्ष्य देने के लिए निकाला विज्ञापन

    लखनऊ  /   लखीमपुर हिंसा कांड में उत्तर प्रदेश सरकार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा सभी गवाहों को सुरक्षा देने के निर्देश के बाद विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) ने जांच की गति और तेज कर दी है। एसआइटी ने चश्मदीद गवाहों से साक्ष्य देने का अनुरोध करते हुए विज्ञापन निकाला है। विज्ञापन में एसआइटी अपने सदस्यों के संपर्क नंबर जारी किया है। प्रत्यक्षदर्शियों से आगे आकर अपने बयान दर्ज कराने और डिजिटल साक्ष्य प्रदान करने के लिए उनसे संपर्क करने का आग्रह करती किया है। एसआइटी का कहना है कि ऐसे लोगों की जानकारी गोपनीय रखी जाएगी और उन्हें पुलिस सुरक्षा दी जाएगी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार को आदेश दिया है कि लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के सभी गवाहों को गवाह सुरक्षा योजना, 2018 के मुताबिक पुलिस सुरक्षा दी जाए। साथ ही कोर्ट ने अन्य महत्वपूर्ण गवाहों के बयान भी सीआरसीपी की धारा-164 के तहत मजिस्ट्रेट के समक्ष जल्द दर्ज कराने का निर्देश देते हुए कहा कि अगर बयान दर्ज करने के लिए मजिस्ट्रेट उपलब्ध नहीं हैं तो जिला जज नजदीक के मजिस्ट्रेट से बयान दर्ज कराएंगे। इसके अलावा कोर्ट ने हिंसा म

भाजपा ने गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों के उपचुनाव के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की

अहमदाबाद / भाजपा ने गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की मंगलवार को घोषणा की। इन सीटों के लिए एक मार्च को चुनाव होगा। राज्य भाजपा के ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष दिनेश अनावडिया और एक कूरियर कंपनी के संस्थापक-अध्यक्ष राम मुकारिया उपचुनाव लड़ेंगे। बनासकांठा जिले से पार्टी के वरिष्ठ नेता अनावडिया 2014-17 के बीच गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम के निदेशक रह चुके हैं। मुकारिया ने कहा कि वह चार दशक से अधिक समय तक पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता रहे है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं पिछले 45 वर्षों से पार्टी का कार्यकर्ता हूं और मुझे खुशी है कि पार्टी ने मुझे राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया है।’’ कांग्रेस नेता अहमद पटेल और भाजपा नेता अभय भारद्वाज के निधन के कारण गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव कराया जा रहा है। पटेल और भारद्वाज का राज्यसभा कार्यकाल क्रमश: अगस्त 2023 और जून 2026 में समाप्त होना था। कोविड-19 से संबंधित दिक्कतों के कारण पटेल और भारद्वाज का निधन पिछले साल क्रमश: 25 नवम्बर और एक दिसम्बर को हुआ था। निर्वाचन आयोग के अनुसार इन दोनों सीटों के लिए एक मार्च को अलग-अलग चुनाव होंगे और मतों की गिनती उसी दिन शाम को होगी। गुजरात विधानसभा में भाजपा और कांग्रेस के क्रमश: 111 और 65 विधायक हैं। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post