सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

अखिलेश ने बना रखा है पिता मुलायम को बंधक: प्रमोद गुप्ता

यू.पी में जैसे ही विधानसभा चुनाव का वक्त नजदीक आता जा रहा है दल-बदल का खेल भी चरम पर है । आपको बता दें कि बिधूना विधानसभा से विधायक विनय शाक्य और उनके भाई के सपा में शामिल होने के बाद से सियासी पारा और गर्म हो गया है।इसी क्रम में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के साढ़ू प्रमोद गुप्ता उर्फ एलएस भी पाला बदलने का ऐलान कर चुके हैं। जैसा की खबर है कि वह भाजपा में शामिल होने के लिए लखनऊ पहुंच चुके हैं। उनके भाजपा में जाने के बाद बिधूना की सियासत में एक बार फिर से उलट फेर के आसार दिख रहे हैं। माना ये जा रहा है कि सपा से प्रमोद प्रबल दावेदार थे लेकिन विनय व उनके समर्थकों के शामिल से होने से चुनावी गणित गड़बड़ा गई। वहीं कुछ लोग इसे प्रसपा सुप्रीमो शिवपाल द्वारा टिकट बंटवारे को लेकर अंदर खाने मची रार का असर बता रहे हैं। आपको मालूम हो बिधूना विधान सभा में प्रमोद गुप्ता एलएस पिछड़ी जाति पर अच्छी पकड़ रखते हैं। मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता ;अब साधना यादवद्ध के बहनोई हैं और मुलायम सिंह के साढू। वह एक बार टिकट न मिलने पर निर्दलीय नगर पंचायत का चुनाव लड़े और जीते थे। इसके बाद 2012 में सपा ने प

उत्‍तराखंड में एक मार्च से सभी विवि और कालेजों में होगी आफलाइन पढ़ाई

देहरादून / कोरोना के चलते पिछले करीब सालभर से प्रदेश में बंद पड़े उच्च शिक्षण संस्थानों में महज पांच दिनों बाद चहल-पहल लौट आएगी। सरकार ने आगामी एक मार्च से सभी विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में सभी सेमेस्टर को पहले की भांति संचालित करने का आदेश जारी किया है। अलबत्ता सभी शिक्षण संस्थाओं को कोरोना से सुरक्षा से संबंधित मानकों का पालन करना होगा। इससे पहले सरकार ने बीती 11 दिसंबर को आदेश जारी कर आफलाइन मोड में आंशिक रूप से पठन-पाठन सुचारू करने का आदेश जारी किया था। साथ ही 15 दिसंबर को पठन-पाठन शुरू करने के संबंध में गाइड लाइन जारी की गई थीं। उक्त आदेश में स्नातक व स्नातकोत्तर स्तर पर पहले और अंतिम सेमेस्टर में अनिवार्य रूप से पढ़ाए जाने वाले थ्योरी और प्रेक्टिकल विषयों की आफलाइन कक्षाएं संचालित करने को अनुमति दी गई थी।शेष कक्षाओं में अभी तक आनलाइन कक्षाएं संचालित हो रहीं थीं। प्रदेश सरकार छठी से 12वीं तक स्कूलों में आफलाइन पढ़ाई प्रारंभ कर चुकी है। ऐसे में विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में भी आफलाइन पढ़ाई सुचारू करने पर जोर दिया जा रहा था। इस संबंध में बुधवार को उच्च शिक्षा प्रमुख सचिव आनंद बर्द्धन ने सभी सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों, उच्च शिक्षा निदेशक और जिलाधिकारियों को आदेश जारी किए हैं। आदेश में बीती 11 दिसंबर को जारी शासनादेश में आंशिक संशोधन किया गया है। सरकार के इस फैसले से उच्च शिक्षण संस्थाओं में एक लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं की आफलाइन पढ़ाई का रास्ता साफ हो गया है। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post