MP के मुरैना में जहरीली शराब पीने से 12 लोगों की मौत

 

मध्य प्रदेश में मुरैना जिले के दो गांवों में सोमवार रात को कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से 12 लोगों की मौत हो गई और आठ लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए। घटना के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जांच के आदेश दे दिए हैं। इसके अलावा, उन्होंने कहा है कि दोषी छोड़े नहीं जाएंगे।

जिला पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने मंगलवार को बताया कि यह घटना जिला मुख्यालय से लगभग 14 किलोमीटर दूर मानपुर एवं पहावाली गांवों में हुई। उन्होंने बताया कि जहरीली शराब पीने से मानपुर और पहवाली गांव के 12 लोगों की मौत हो गयी तथा आठ लोग गंभीर रुप से बीमार हो गये। बीमार लोगों को बेहतर इलाज के लिए ग्वालियर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

उन्होंने बताया कि प्राथमिक तौर पर मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार रात को ग्रामीणों ने शराब पी थी, जिसके बाद उनकी हालत बिगड़ गयी और अब तक 11 लोगों की इससे मौत हो चुकी है। सुजानिया ने बताया कि सभी मृतकों का मुरैना के जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया जा रहा है और इसकी रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों की पुष्टि की जा सकेगी।

वहीं, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ''घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदाई है। मैंने जांच के निर्देश दिए हैं। एक टीम बनाई गई है जो जांच कर रही है। जांच के तथ्य अभी आने हैं लेकिन इतना पक्का है कि दोषी छोड़े नहीं जाएंगे। हम कठोर कार्रवाई करेंगे। मैं तथ्यों की प्रतीक्षा कर रहा हूं।''

पुलिस अधिकारी ने आगे बताया कि इस मामले में ग्वालियर के अस्पताल में भर्ती लोगों के बयान लेने पुलिस वहां पहुंच गई है। उनके बयान लेने के बाद ही साफ हो पायेगा कि गांव में संदिग्ध जहरीली शराब कहां से आई थी। एसपी ने बताया कि पुलिस गांव में भी पूछताछ कर रही है। इस मामले में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

Sources:Agency News