किसानों के समर्थन में कांग्रेस का पैदल मार्च, राहुल गांधी बोले- काले कानूनों को वापस लेना पड़ेगा


 

नयी दिल्ली  /  केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस का देशव्यापी प्रदर्शन चल रहा है और किसानों के प्रति समर्थन दिखाते हुए कांग्रेस आज किसान अधिकार दिवस मना रही है। बता दें कि इटली से लौटने के बाद वॉयनाड सांसद राहुल गांधी ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार से कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की है। इसी बीच खबर है कि राजधानी दिल्ली में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन का घेराव कर रहे हैं। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि हम किसानों के साथ खड़े हैं और इन काले कानूनों को भाजपा सरकार को वापस लेना पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस और वाम मोर्चा से मदद के लिए TMC की अपील हताशा का संकेत: दिलीप घोष 

वहीं, उत्तर प्रदेश में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को प्रदर्शन के दौरान उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि तीनों काले कृषि कानून और बढ़ते तेल के दाम को लेकर राजभवन का घेराव करने जा प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, एमएलसी दीपक सिंह, दिलप्रीत समेत कई नेताओं को गिरफ्तार किया गया है। डरी हुई योगी सरकार पुलिस को आगे करके जनता की आवाज को दबाना चाहती है।

कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर भी स्पीक अप फॉर किसान अधिकार (#SpeakUpForKisanAdhikar) नामक हैशटैग के माध्यम से एक अभियान की शुरुआत की है। कांग्रेस की रणनीति है कि सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक किसानों के मुद्दों को जोरशोर से उठाना है और सरकार पर कानून वापसी का दबाव बनाना है।

इस बीच राहुल गांधी ने भी ट्वीट के माध्यम से सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि देश के अन्नदाता अपने अधिकार के लिए अहंकारी मोदी सरकार के खिलाफ सत्याग्रह कर रहे हैं। आज पूरा भारत किसानों पर अत्याचार व पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरुद्ध आवाज बुलंद कर रहा है। आप भी जुड़िये और इस सत्याग्रह का हिस्सा बनिए।


Sources:Agency News