लखनऊ/ यूपी: बलिया में पत्रकार को दौड़ाकर मारी गोली, मौत, 10नामजद, 6गिरफ्तार


उत्तर प्रदेश के जनपद बलिया के फेफना थाना क्षेत्र में सोमवार शाम को पत्रकार रतन सिंह को बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी. देर शाम अपने मित्र के घर से लौट रहे पत्रकार की हत्या की साजिश में बदमाशों ने पत्रकार का पीछा किया. उसी दौरान जान बचाने के लिए पत्रकार ने गांव के प्रधान के घर मे जाकर जान बचाने की कोशिश की, पर बदमाशों ने दौड़ाकर गोली मार दी. पत्रकार ने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया. इस मामले में 10 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी. घटना के बाद बलिया जिले के फेफना थानाध्यक्ष शशिमौली पांडेय को एसपी देवेन्द्र नाथ ने किया निलंबित कर दिया है.


बलिया के एसपी देवेंद्र नाथ ने बताया कि झगड़े के दौरान पट्टीदारों ने पत्रकार रतन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी है. पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई है. रतन सिंह की हत्या के बाद पत्रकार इंसाफ के लिए परिवार वालों के साथ धरने पर बैठ गए है, धरना एनएच 31 पर किया गया. वहीं एसपी देवेंद्र नाथ ने कहा हैंकि इस घटना का पत्रकारिता का कोई संबंध नहीं है.


शोकाकुल पिता ने पुलिस पर आरोप लगाया हैकि पुलिस एकदम झूठी कहानी बना रही, कोई जमीनी विवाद नहीं था, पुआल, भूसी का भी कोई मामला नहीं था, थाने से दस कदम दूरी पर हत्या


बलिया पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया हैकि पत्रकार रतन सिंह की उनके पट्टीदारों ने लाठी-डंडे और गोली मारकर हत्या कर दी. इस मामले में नामजद 10 आरोपियों में से 6 को गिरफ्तार किया जा चुका है. घटना का कारण पिछले साल 26 दिसंबर को दोनों पक्षों में हुई मारपीट है. पुलिस का कहना हैकि इस मारपीट के बाद दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. रतन सिंह पर दर्ज मुकदमा गलत पाया गया था. इसी में से 5अभियुक्तों पर रतन सिंह की हत्या का आरोप है.


Source :Agency news