सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

मध्य प्रदेश के बाद अब यू.पी में भी नाइट कर्फ्यू,बैठक के बाद सी.एम योगी का फैसला

 


देश में लगातार ओमीक्रोन का खतरा बढ़ता जा रहा है। इन सबके बीच उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप को देखते हुए नाइट कर्फ्यू का फैसला किया गया है। योगी सरकार ने 25 दिसंबर से प्रदेश में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है। कोविड-19 पर हुए महत्वपूर्ण बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है जो हर दिन रात्रि 11:00 बजे से शुरू होकर सुबह 5:00 बजे तक लागू रहेगा। इसके साथ ही शादी बारात के आयोजनों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा और 200 लोगों की ही अनुमति होगी।

कोविड-19 मामलों में हो रही वृद्धि के मद्देनजर आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चस्तरीय-09 टीम की महत्वपूर्ण बैठक के बाद अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि अगर जो लोग मास्क लगाकर बाजार में नहीं निकलते हैं तो उन्हें सामान ना दिया जाए। सरकार ने व्यापारियों से कहा है कि 'मास्क नहीं तो सामान नहीं' के संदेश के साथ ही अपनी दुकानों को खोलें। हालांकि राज्य में बाहर से आने वाले हर व्यक्ति की ट्रेसिंग और टेस्टिंग के दिशा निर्देश भी दे दिए गए हैं। रेलवे और बस स्टॉप पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। उत्तर प्रदेश में 49 नए मामलों की पुष्टि हुई है। इसका मतलब साफ है कि पहले से इसमें वृद्धी जरूर हुई है। इससे पहले मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है जो कि रात को 11:00 बजे से शुरू होकर सुबह 5:00 बजे तक लागू रहेगा। मध्यप्रदेश हो या फिर उत्तर प्रदेश दोनों ही राज्यों में अब तक ओमीक्रोन के कोई नए मामले नहीं आए हैं। विशेषज्ञ जनवरी-फरवरी तक तीसरे लहर की आशंका जता रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकारें अभी से ही सावधानी बरत रही है।

टिप्पणियाँ

Popular Post