सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

देहरादून : ओमीक्रोन संक्रमित युवती के माता-पिता भी निकले कोरोना पॉजिटिव

 


दून के कांवली रोड में स्कॉटलैंड से लौटी जिस युवती में कोरोना के ओमीक्रोन वेरिएंट की पुष्टि हुई है, अब उसके माता-पिता की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, युवती की दोबारा करवाई गई कोरोना जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। स्वास्थ्य विभाग ने युवती की कॉलोनी में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बना दिया है। युवती और उसके माता-पिता की सेहत सामान्य बनी है।जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. राजीव दीक्षित ने बताया कि युवती के माता-पिता के भी सैंपल लिए गए थे। इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं युवती की दोबारा कोरोना जांच कराई गई थी, जिसमें जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, लेकिन हालत बिल्कुल सामान्य है। युवती विगत आठ दिसंबर को स्कॉटलैंड से लौटी थी और परिजनों के साथ ही दिल्ली से कार में आई थी। एक निजी लैब में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी, जिसके बाद दिल्ली में जीनोम सीक्वेंसिंग कराई गई। दिल्ली से जीनोम सीक्वेंसिंग में कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन की पुष्टि हुई थी। युवती के घर के इलाके में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है, जहां पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। युवती के माता-पिता के सैंपल जीनोम जांच के लिए दून मेडिकल कॉलेज भेजे गए हैं।देहरादून। उत्तराखंड में गुरुवार को कोरोना के 39 नए मरीज मिले और तीन मरीज डिस्चार्ज किए गए। इसके साथ ही एक्टिव मरीजों की संख्या 220 हो गई है। गुरुवार को भी राज्य में मरीजों की संख्या में इजाफा देखा गया। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, यूएसनगर में 12, दून में 11, नैनीताल में 10, पिथौरागढ़ में चार और चमोली-पौड़ी में एक-एक नया मरीज मिला है। इसके साथ ही राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़नी शुरू हो गई है।विकासनगर। कोविड के नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए उप जिला अस्पताल प्रशासन भी सक्रिय हो गया है। इन दिनों अस्पताल प्रबंधन की ओर से प्रशासन के साथ मिलकर विदेश से आने वाले लोगों की पहचान कर उनकी कोविड जांच करने के साथ ही एहतियात के तौर पर उन्हें क्वारंटाइन किया जा रहा है। उप जिला चिकित्सालय के कोविड नोडल अधिकारी डॉ. प्रदीप चौहान ने बताया कि बुधवार को दिनकर विहार में एक परिवार के चार सदस्य लंदन से लौटे हैं, जो दिल्ली एयरपोर्ट से टैक्सी के माध्यम से विकासनगर पहुंचे हैं। दिल्ली एयरपोर्ट और उत्तराखंड के स्वास्थ्य महानिदेशालय से जानकारी मिलने के बाद परिवार के सभी सदस्यों की कोविड जांच की गई। उन्होंने बताया कि हालांकि उनकी कोविड जांच एयरपोर्ट पर भी की गई है, लेकिन कोविड नियमों के तहत यहां भी सैंपल लिए गए हैं, जिन्हें जांच के लिए भेज दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने तक विदेश से लौटे सभी चार लोगों समेत उनके संपर्क में आए बाकी लोगों को भी होम क्वारंटाइन में रखा गया है। अस्पताल प्रबंधन क्वारंटाइन में रखे गए इन सभी लोगों के स्वास्थ्य पर नजर रखे हुए है।

टिप्पणियाँ

Popular Post