सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

हरक की घर वापसी, बहू अनुकृति ने भी थामा कांग्रेस का हाथ

देहरादून: पांच दिनों तक मचे सियासी घमासान के बाद आखिरकार पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू अनुकृति गुसाईं ने आज दिल्‍ली में कांग्रेस का दामन थाम लिया।  इस दौरान पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे। इस दौरान हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश का विकास मेरा लक्ष्‍य है। उन्होंने कहा कि मैं बिना शर्त कांग्रेस परिवार में शामिल हुआ हूं।हरक ने कहा मैंने 20 साल तक कांग्रेस के लिए काम किया है। मैं सोनिया गांधी का एहसान किसी भी कीमत पर नहीं भूलूंगा । वहीं देर आयद दुरूस्त आये की कहावत चरितार्थ करते हुये कांग्रेस में पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत की वापसी पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत की आपत्ति के बाद पेच फंसा हुआ था । हालांकि सरकार तोडने में हरक की भूमिका जिसमे उन्होंने वर्ष 2016 में बगावत कर उनकी सरकार गिराई भी हरीश रावत बहुत नाराज थे जिसको लेकर हरीश रावत के तीखे तेवरों में अभी कमी नहीं आई है। वह हरक सिंह रावत को लोकतंत्र का गुनहगार बताते हुए पहले माफी मांगने पर जोर देते रहे। लेकिन हरीश रावत कह चुके थे कि हरक की

हरीश रावत समर्थकों की राजेंद्र शाह समर्थकों से भिड़ंत,कांग्रेस भवन में चले लात-घूंसे



  देहरादून /  देहरादून स्थित उत्तराखंड कांग्रेस भवन में पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत के समर्थक राजेंद्र शाह के साथ भिड़ गए। उन्होंने रावत के लिए अपशब्द का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए मारपीट शुरू कर दी। मामले को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मथुरा दत्त जोशी ने कहा की घटना निंदनीय है। मामले में संलिप्त लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। कांग्रेस भवन में दोनों गुटों के समथकों की भीड़ लगी हुई है।उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस में अंदरूनी कलह खुलकर सतह पर आ रही है। पहले जहां पूर्व सीएम हरीश रावत के एक ट्वीट से उत्तराखंड की सियासत में भूचाल आ गया था। वहीं, अब प्रीतम सिंह गुट के करीबी महामंत्री राजेंद्र शाह के साथ मारपीट का मामला सामने आया है।दरअसल, हरीश रावत के समर्थकों ने शाह पर अपशब्द कहने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। देखते ही देखते उन्होंने मारपीट शुरू कर दी। इसको लेकर मौके पर गहमागहमी का माहौल बना रहा। छात्रों ने मारपीट के बाद कमरे का दरवाजा बंद कर दिया और अंदर महामंत्री से लड़ते रहे।


टिप्पणियाँ

Popular Post