सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव.संग्राम 2022: भाजपा.और आप के बीच में छिड़ा स्टार वार,कांग्रेस कर रही इंतजार

      भाजपा व आप ने रणनीति के तहत स्टार वार का गेम शुरू किया है। दरअसल, आचार संहिता लागू होने पर वीवीआईपी की रैलियां कराने के लिए पूरा खर्चा प्रत्याशियों के खाते में शामिल होता है।  उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले स्टार वार शुरू हो चुका है। भाजपा और आम आदमी पार्टी अभी इसमें आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस अभी इंतजार के मूड में है।   निर्वाचन आयोग की टीमों की इस पर पैनी नजर रहती हैं।  निर्धारित सीमा से ज्यादा खर्च होने की दशा में ऐसे प्रत्याशियों को आयोग के नोटिस झेलने पड़ते हैं और चुनाव के वक्त इनका जवाब देने में उनका समय अनावश्यक जाया होता है। भाजपा में सबसे ज्यादा डिमांड प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की है। वे दो माह के भीतर उत्तराखंड के दो दौरे कर चुके हैं। पहले वे सात अक्तूबर को ऋषिकेश एम्स में आक्सीजन प्लांट जनता को समर्पित करने आए और इसके बाद पांच नवंबर को केदारनाथ धाम के दर्शन को पहुंचे। अब मोदी चार दिसंबर को दून में चुनाव रैली संबोधित करने आ रहे हैं। उधर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी इस बीच दो दौरे कर चुके हैं। अक्तूबर में कुमाऊं के कई हिस्सों में आपदा के बाद वे रेस्क्यू आपरेशन

सोनीपत डबल मर्डर: दिल्ली पुलिस ने महिला पहलवान निशा दहिया व भाई के दोनों हत्यारोपी दबोचे



सोनीपत की महिला पहलवान निशा दहिया और उसके भाई सूरज की हत्या का आरोपी कोच पवन और सचिन दोनों पकड़े गए हैं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दोनों को हिरासत में लिया है। दिल्ली के द्वारका इलाके से इन लोगों को दबोचा गया है। हत्याकांड के बाद दोनों आरोपी मौके से फरार हो गए थे। दोनों पर 1 लाख का इनाम सोनीपत पुलिस की ओर से रखा गया था।प्रशिक्षण लेने आई नेशनल स्तर की महिला पहलवान व उसके छोटे भाई की कोच व अन्य ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। आरोपियों ने दोनों की मां को भी गोली मारकर घायल कर दिया था। वारदात गांव हलालपुर में की गई थी। कुश्ती पहलवान निशा व उसके भाई की हत्या से न केवल गांव हलालपुर में मातम पसर गया था, बल्कि खेल जगत में भी रोष था। निशा ऑल इंडिया विश्वविद्यालय गेम्स में रजत पदक जीत चुकी थी।इसके बाद से ही वह तीन वर्ष पहले गांव में खुली कुश्ती अकादमी में प्रशिक्षण प्राप्त करने लगी थी। छोटा भाई सूरज रोजाना बहन निशा को अकादमी में छोड़ने व लेने आता था। बुधवार को बेटी की तबीयत बिगड़ने की सूचना पर मां धनपति बेटे के साथ अपनी बेटी को लेने गई थी। वहां पर निशा के साथ ही उसके भाई की भी हत्या कर दी गई, जबकि घायल मां रोहतक पीजीआई में उपचाराधीन है। हत्याकांड के बाद लोगों ने अकादमी में तोड़फोड़ कर दी थी। साथ ही आग भी लगा दी गई थी।पहलवान निशा की दो बड़ी बहनें हैं, जबकि एक छोटा भाई सूरज था। दोनों बड़ी बहनों की शादी हो चुकी है और निशा व सूरज अपनी मां के साथ रहते थे। उनके पिता दयानंद सीआरपीएफ में बतौर एसआई कार्यरत हैं और फिलहाल में श्रीनगर में तैनात हैं। 



टिप्पणियाँ

Popular Post