कांग्रेस में जारी घमासान, CM चन्नी की PM मोदी से पहली मुलाकात

  


 

स्वच्छता है तो अच्छा समाज है, स्वच्छता है तो अच्छी सेहत है, स्वच्छता है तो हरियाली है और स्वच्छता में ही देश की खुशहाली है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन 2.0 और अटल मिशन 2.0 की शुरुआत की जिसके बारे में हम आपको बताएंगे। साथ ही साथ यह भी बताएंगे कि कैसे पंजाब में कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। एक ओर जहां आज हरीश रावत ने कैप्टन अमरिंदर सिंह पर जबरदस्त तरीके से वार किया तो पलटवार में भी कैप्टन ने कई बड़े आरोप लगाए। वहीं, आज पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘स्वच्छ भारत मिशन-शहरी’ और कायाकल्प एवं शहरी सुधार के लिए ‘अटल मिशन’ के दूसरे चरण की शुरुआत की। प्रधानमंत्री मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन 2.0 और अटल मिशन 2.0 की शुरुआत करने के बाद कहा कि ये अभियान बीआर आंबेडकर के सपने पूरे करने की दिशा में एक और कदम है। मोदी ने कहा कि युवा पीढ़ी ने स्वच्छता अभियान को बेहतर बनाने के लिए काम किया। उन्होंने कहा की टॉफी की पन्नी अब जमीन पर नहीं फेंकी जाती, बल्कि उसे जेब में रखा जाता है। छोटे बच्चे अब बड़ों से कूड़ा ना फैलाने को कहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा ने कहा कि हमें ये याद रखना है कि स्वच्छता, एक दिन का, एक पखवाड़े का, एक साल का या कुछ लोगों का ही काम नहीं है। स्वच्छता हर किसी का, हर दिन, हर पखवाड़े, हर साल, पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाला महाअभियान है। स्वच्छता जीवनशैली है, स्वच्छता जीवन मंत्र है।पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान के बीच में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू को तानाशाही की इजाजत क्यों मिली ? कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस की स्थिति काफी ज्यादा दयनीय है। कैप्टन अमरिंदर ने एक बार फिर से सिद्धू को घेरा है। उन्होंने कहा कि सिद्धू पार्टी आलाकमान पर दबाव बनाते हैं और उन्हें ज्यादा छूट दी गई है। कुछ महीनों से मुझ पर वाफादारी का दबाव था। उन्होंने कहा कि आलोचक भी मेरी ईमानदारी पर सवाल नहीं खड़ा कर सकते हैं। इसी बीच उन्होंने हरीश रावत की फोन नहीं उठाने वाली बात को बकवास बताया। आपको बता दें कि हरीश रावत ने कहा था कि रिपोर्टों में कोई तथ्य नहीं है कि कांग्रेस ने कैप्टन अमरिंदर सिंह का अपमान किया है। कैप्टन के हालिया बयानों से लगता है कि वह किसी के दबाव में हैं। उन्हें पुनर्विचार करना चाहिए और प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा की मदद नहीं करनी चाहिए।  पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की। मुख्यमंत्री बनने के बाद चन्नी की मोदी से यह पहली मुलाकात है। मुलाकात के बाद चन्नी ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री के साथ सौजन्य भेंट थी, अच्छे माहौल में बातचीत हुई। चन्नी ने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री मोदी के सामने 3 मुद्दे रखे हैं। उन्होंने कहा कि धान खरीदी 1 अक्टूबर से शुरू होती है लेकिन सरकार ने इस बार 10 अक्टूबर से कर दिया है। ऐसे में मैंने उनसे अनुरोध किया है कि इसे अभी शुरू कराया जाए, जिस पर उन्होंने कहा कि मैं बात करके इसका समाधान निकालूंगा। चन्नी ने बताया कि मैंने तीन कृषि कानूनों का झगड़ा समाप्त करने की बात कही है। जिसको उन्होंने बड़ी ध्यान से सुना है और मैंने किसानों से बातचीत शुरू करने की बात कही है। जिस पर उन्होंने कहा कि वो भी इसका हल ढूंढना चाहते हैं।