महंत नरेंद्र गिरि केस: साढ़े सात घंटे जांच के बाद दो बैग और एक सूटकेस भरकर प्रयागराज ले गई सीबीआई

 


 हरिद्वार में आनंद गिरि के आश्रम में साढ़े सात घंटे तक चली जांच में सीबीआई की टीम जब गुरुवार की सुबह साढ़े तीन बजे आश्रम से निकली तो उसके साथ में एक ट्राली बैग, एक छोटा बैग व एक सूटकेस था। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में प्रयागराज से आनंद गिरि को लेकर हरिद्वार पहुंची सीबीआई की टीम ने उसके आश्रम में साढ़े सात घंटे तक पूछताछ की। इसके साथ ही बारीकी से जांच भी की। सीबीआई की इस टीम का डीआईजी रैंक के अधिकारी नेतृत्व कर रहे थे।गुरुवार की सुबह जब सीबीआई की टीम आश्रम से बाहर निकली तो आनंद गिरि के चेहरे पर थकान दिख रही थी। साढ़े सात घंटे तक आश्रम में जिस तरीके से सीबीआई ने जांच की और कई लोगों को बुलाकर पूछताछ की उससे स्पष्ट है कि टीम के हाथ अहम सुबूत लगे हैं। बताया जा रहा है कि लैपटॉप को अब सीबीआई प्रयागराज ले जाकर उसमें से डाटा रिकवर करने का प्रयास करेगी। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि के संपर्क में रहने वाले कई लोग लगातार फोन पर अपने परिचितों से पूछते हुए नजर आए कि क्या सीबीआई की टीम चली गई है।मगर जब लोगों को पता चला कि दो सदस्य टीम अभी यहीं पर रुकी हुई है तो उनके धड़कने बढ़ने लगी है। क्योंकि अब दो सदस्यीय टीम का काम स्थानीय लोगों से पूछताछ करने व सुबूत जुटाने का रहेगा। जानकारी के अनुसार सीबीआई की दो सदस्यीय टीम हरिद्वार में ही रहकर कई लोगों से पूछताछ करेगी। इसमें कई संत, प्रॉपर्टी डीलर व रसूखदार लोग हैं। टीम में एक दरोगा और सिपाही शामिल हैं। हरिद्वार में रुकी टीम ने भाजपा के एक नेता व होटल व्यापारी के बारे में जानकारी जुटानी शुरू कर दी है।

Sources:AmarUjala