सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

नए वेरिएंट फैलने की आशंका : आश्रमों और गेस्ट हाउस में भी देना होगा अब कोरोना जांच का प्रमाणपत्र

  मथुरा / उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन शहर में दस विदेशी एवं एक देशी नागरिक के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी गेस्ट हाउसों एवं आश्रमों को कहा है कि वे अपने आने वाले हर देशी-विदेशी मेहमान का पूरा ब्योरा रखें और उनके पास कोरोना जांच का नेगेटिव प्रमाण पत्र होने के बाद ही उन्हें अपने यहां ठहराएं। गौरतलब है कि लंबे समय तक कोरोना वायरस का मामला नहीं आने के बाद बरती गई लापरवाही के बाद अब फिर से कोरोना संक्रमितों के मिलने का सिलसिला चल पड़ा है। वृन्दावन में पिछले सप्ताह से अब तक दस विदेशी एवं एक उड़ीसा की भारतीय नागरिक संक्रमित पाई जा चुकी है। तीन विदेशी जिला स्तर पर कोई सूचना दिए बिना यहां से लौट भी चुके हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने कहा है कि गेस्ट हाउस एवं आश्रम बाहर से आने वाले व्यक्तियों के रुकने से पूर्व उनके कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र एवं कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त कर ही उन्हें ठहराएं तथा ऐसा नहीं होने पर वे तत्काल स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट करें। उनके अनुसार नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। न

मालगाड़ी हादसा : शताब्दी एक्सप्रेस निरस्त, तेजस और वंदे भारत समेत कई ट्रेनों के रूट बदले

 


 

लखनऊ /   कानपुर रेलवे स्टेशन से करीब पचास किलोमीटर दूर अंबियापुर के पास दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर शुक्रवार सुबह खाली मालगाड़ी के 24 डिब्बे पलट गए। घटना में जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं हैं लेकिन ट्रेनों का आवागमन बाधित हो गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रेल यातायात बहाल करने के प्रयास जारी हैं। उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवम शर्मा ने को बताया कि शुक्रवार सुबह करीब सवा चार बजे कानपुर रेलवे स्टेशन से पचास किलोमीटर दूर अंबियापुर और रूरा के बीच गाजियाबाद से मुगलसराय जा रही खाली मालगाड़ी के 24 डिब्बे पलट गये। घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है लेकिन इससे दिल्ली-हावड़ा की अप और डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया। रेलवे सूत्रों के मुताबिक मालगाड़ी के डिब्बे पलटने के बाद वे बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये और कुछ दूर तक पटरियां भी उखड़ गयी हैं। शर्मा ने बताया कि इस हादसे के कारण टुंडला-कानपुर मार्ग पर लोकल ट्रेनों और लंबी दूरी की कुछ ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया गया। इसके अलावा कुछ ट्रेनों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है। शर्मा ने बताया कि वरिष्ठ रेल अधिकारियों की टीम सुबह से ही घटनास्थल पर तैनात है और आवागमन बहाल करने के प्रयास किये जा रहे हैं।प्रयागराज मंडल के कानपुर टूंडला खंड के कानपुर देहात में अंबियापुर और रूरा स्टेशन के मध्य मालगाड़ी के वैगन पटरी से उतरने के चलते नई दिल्ली हावड़ा रेल रूट पर ट्रेन संचालन रोक दिया गया है। इसके चलते शताब्दी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनों पर असर पड़ा। कानपुर-दिल्ली शताब्दी को निरस्त कर दिया गया है, वहीं दूसरी वीआईपी ट्रेनों के रूट बदल दिए गए। गाड़ी सं -2034 नई दिल्ली- कानपुर शताब्दी एक्सप्रेस आज नहीं चलेगी। कानपुर से ट्रेनों को वाया कासगंज निकलाने की तैयारी की जा रही है, वहीं इटावा से पहले दिल्ली से आ रही ट्रेनों को टुंडला से डायवर्ट किया जा रहा है। फिलहाल अभी रेलवे अधिकारी नहीं बता रहे हैं कि दिल्ली हावड़ा रेल रूट कबतक बहाल हो पाएगा। घटनास्थल पर डीआरएम भी पहुंच रहे हैं।

इन ट्रेनों का बदला गया रूट

04411 भागलपुर – आनंदविहार एक्सप्रेस अपने निर्धारित मार्ग के स्थान पर लखनऊ- मुरादाबाद-गाजियाबाद के रास्ते चलेगी।

02871 मगध एक्सप्रेस अपने निर्धारित मार्ग के स्थान पर कानपुर अनवरगंज- फर्रुखाबाद-शिकोहाबाद के रास्ते चलेगी।

02313 सियालदा- नई दिल्ली एक्सप्रेस अपने निर्धारित मार्ग के स्थान पर कानपुर-झांसी-आगरा-पलवल-नई दिल्ली के रास्ते चलेगी।


टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव