सहारनपुर के देवबंद में खोला जाएगा UP ATS कमांडो ट्रेनिंग सेंटर

 


 

लखनऊ /   प्रदेश में आतंकी गतिविधियों के बढऩे और वर्तमान परिस्थितियों और चुनौतियों के मद्देनजर योगी आदित्यनाथ सरकार बेहद गंभीर हो गई है। उत्तर प्रदेश में बीते दिनों आतंकी धमकियों तथा हरकतों के बाद लखनऊ में अलकायदा समर्थित संगठन के दो आतंकियों को पकडऩे के बाद सरकार ने उत्तर प्रदेश एटीएस का दायरा भी बढ़ाने का फैसला किया। सरकार ने प्रदेश में नया एटीएस कमांडो सेंटर खोलने की तैयारी कर ली है। सरकार ने सहारनपुर में देवबंद के निकट दो हजार वर्ग मीटर जमीन उत्तर प्रदेश एटीएस कमांडो सेंटर के लिए आवंटित कर दी है।

उत्तर प्रदेश सरकार सहारनपुर के देवबंद में एटीएस कमांडों सेंटर स्थापित करेगी। सरकार ने प्राथमिकता के आधार पर एटीएस को यहां पर दो हजार वर्ग मीटर जमीन आवंटित कर दी है। इसके बाद से देवबंद में एटीएस सेंटर बनने का काम तेजी से शुरू हो रहा है। प्रदेश में आतंकी गतिविधियों के बढऩे और वर्तमान परिस्थितियों और चुनौतियों के मद्देनजर योगी आदित्यनाथ सरकार का यह बड़ा निर्णय हैं। लखनऊ में पकड़े गए दो आतंकियों से मिले इनपुट के बाद से सरकार तत्काल एकशन में आ गई। सरकार ने देवबंद में एटीएस कमांडो सेंटर खोलने की तैयारी पूरी कर ली है। यहां पर सरकार को बड़ी जमीन मिली है। इस जमीन पर पहले उद्यमियों को प्रशिक्षण मिलता था। अब वहां उत्तर प्रदेश एटीएस के कमांडो ट्रेंड होंगे।

 

तालीबान की बर्बरता के बीच यूपी की खबर भी सुनिए,योगीजी ने तत्काल प्रभाव से ‘देवबंद’ में ATS कमांडो सेंटर खोलने का निर्णय लिया है,युद्धस्तर पर काम शुरू भी हो गया है,प्रदेश भर से चुने हुए करीब डेढ दर्जन तेज तर्रार एटीएस अफसरों की यहां तैनाती होगी।

 

 उत्तर प्रदेश पुलिस के चुनिंदा कमांडो को देवबंद में ट्रेनिंग दी जाएगी। इस काम को करने के लिए प्रदेश के तेज तर्रार करीब डेढ़ दर्जन अफसरों को भी यहां पर तैनात किया जाएगा। सरकार इसको लेकर लम्बे समय से होमवर्क कर रही थी। सहारनपुर जिला प्रशासन से इस पर गोपनीय प्रस्ताव मंगाया गया था। जिला प्रशासन ने देवबंद के उद्योग प्रशिक्षण केंद्र में एटीएस कमांडो सेंटर बनाने का प्रस्ताव भेजा था। शासन ने इसको मंजूरी दी है।

 

Sources: जेएनएन