कोरोना प्रोटोकाल के दायरे में मनाया जाएगा स्वाधीनता दिवस कार्यक्रम, सम्मानित होने वालों का होगा RT-PCR टेस्ट

 


  देहरादून / उत्तराखंड में स्वतंत्रता दिवस के राज्य स्तरीय मुख्य कार्यक्रम में कोरोना प्रोटोकाल का अनिवार्य रूप से पालन होगा। देहरादून के परेड मैदान में होने वाले मुख्य कार्यक्रम में बच्चों की भागीदारी नहीं होगी। एनसीसी परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रम और कवि सम्मेलन भी नहीं होंगे। स्वतंत्रता सेनानियों को उनके आवास पर जाकर सम्मानित किया जाएगा। मुख्य कार्यक्रम में सम्मानित किए जाने वालों का अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जाएगा।मुख्य सचिव डा एसएस संधू ने बुधवार को सचिवालय के सभाकक्ष में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रमों के संबंध में बैठक की। उन्होंने स्वतंत्रता दिवस को भव्य तरीके से मनाने के लिए अधिकारियों को कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में भाग लेने वाले लोग अनिवार्य रूप से मास्क पहनेंगे। साथ बैठने में सुरक्षित शारीरिक दूरी के मानक का पालन किया जाएगा। आमंत्रित व्यक्तियों को ई-पास जारी किए जाएंगे।

बेहतर कार्य करने वाले कार्मिक होंगे सम्मानित

बीते वर्षों में विभिन्न विभागों में बेहतर काम करने वाले कार्मिकों और कोरोना काल में बेहतरीन कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए सभी विभागों को ऐसे कार्मिकों और कोरोना योद्धाओं की सूची खेल विभाग को सौंपने के निर्देश मुख्य सचिव ने दिए हैं। आवास पर होगा स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मानउन्होंने सभी जिलाधिकारियों को स्वतंत्रता सेनानियों को उनके आवास पर जाकर सम्मानित करने को कहा है। उन्होंने इंटरनेट मीडिया के माध्यम से व्यक्तियों को इस कार्यक्रम से जोड़ने और एक भारत, श्रेष्ठ भारत और आत्मनिर्भर भारत का संदेश प्रसारित करने को कहा।

सीएम धामी परेड मैदान में करेंगे ध्वजारोहण

राज्यस्तरीय मुख्य कार्यक्रम परेड मैदान में होगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी 15 अगस्त को सुबह 10 बजे ध्वजारोहण कर कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। इसके बाद परेड की सलामी और सम्मान समारोह में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को सम्मानित किया जाएगा। इस बार भी परेड में पैरामिलिट्री फोर्स, पीएसी, नागरिक पुलिस व होमगार्ड के दस्ते भाग लेंगे। विभिन्न जिलों में प्रभारी मंत्री ध्वजारोहण कर कार्यक्रम शुरू करेंगे। सभी सरकारी और गैर सरकारी भवनों पर संबंधित विभागाध्यक्ष व कार्यालयाध्यक्ष सुबह नौ बजे ध्वजारोहण करेंगे।

सार्वजनिक भवन होंगे प्रकाशमान

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर विभिन्न सार्वजनिक भवनों में साफ-सफाई और उन्हें प्रकाशमान किया जाएगा। जिलों में पौधारोपण अभियान भी चलाया जाएगा। महत्वपूर्ण स्थलों, चौराहों पर देशभक्ति गीतों का प्रसारण किया जाएगा। एक हफ्ते पहले से ही शहीद स्थल, पार्क व स्मरणीय व्यक्तियों की प्रतिमाओं की साफ-सफाई की जाएगी। टीवी, रेडियो, इंटरनेट मीडिया के माध्यम से देशभक्ति गीतों का प्रसारण किया जाएगा। बैठक में अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन, प्रमुख सचिव आरके सुधांशु, सूचना महानिदेशक रणवीर सिंह चौहान समेत बड़ी संख्या में अधिकारी और सभी जिलाधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े हुए थे।