विभाग की रीढ़ हैं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता: रेखा आर्य

  


 देहरादून /   उत्तराखंड की महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य रविवार को देहरादून में आयोजित तीलू रौतेली और राज्य स्तरीय आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता पुरस्कार वितरण समारोह में आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ताओं का दिल जीतने में कामयाब रहीं। आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की पोशाक पहनकर समारोह में पहुंची मंत्री आर्य ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता विभाग की रीढ़ हैं। विभागीय योनजाओं को धरातल पर वे ही फलीभूत कर रही हैं। उन्होंने कहा कि उनका आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ताओं की पोशाक पहनने का यही अर्थ है कि वह उन्हें किस सम्मान से देखती हैं। इस पोशाक में वह समान अनुभूति कर रही हैं।

मैंने भी आंगनबाड़ी में भेजे थे अपने बच्चे

मंत्री आर्य ने कहा कि यह संयोग ही है वर्ष 1978 में जब यहां विभाग की शुरुआत हुई, उसी वर्ष उनका जन्म हुआ। आर्य ने कहा कि उन्होंने भी अपने बच्चों को सबसे पहले आंगनबाड़ी केंद्र भेजा। उन्होंने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के परिवार का भी आंगनबाड़ी से विशेष लगाव है। मुख्यमंत्री के पिता ने आंगनबाड़ी केंद्र के लिए अपनी भूमि दी थी। बाद में मुख्यमंत्री धामी ने भी अपने दोनों बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र भेजा।

खड़िया के घोल से तख्ती पर लिखते थे

समारोह में अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने बचपन के संस्मरण भी साझा किए। उन्होंने कहा कि प्राथमिक शिक्षा के दौरान वह तख्ती (पाटी) पर लिखते थे। इसके लिए खड़िया के घोल और कलम का उपयोग किया जाता था।

नरेंद्र सिंह भंडारी के नाम पर होगा राजकीय पालीटेक्निक पोखरी

शासन ने राजकीय पालीटेक्निक पोखरी (चमोली) का नाम पूर्व कैबिनेट मंत्री नरेंद्र सिंह भंडारी के नाम पर रखने का आदेश जारी कर दिया है। यह कदम मुख्यमंत्री घोषणा के क्रम में उठाया गया है। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं।