वाराणसीः मां ने तकिया से बेटी का मुंह दबाकर की हत्या खुद भी फांसी लगाकर दी जान

 


वाराणसी में गुरुवार को पारिवारिक कलह ने एक साथ दो जानें ले ली। मां ने अपने ही हाथों से मासूम बेटी का मुंह तकिया से दबाकर हत्या करने के बाद फांसी लगाकर जान दे दी। घटना भेलूपुर थाना क्षेत्र नेवादा इलाके में हुई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। विवाहिता के पिता की शिकायत पर सास-ससुर को हिरासत में लिया गया है। पति दिल्ली में है। उसके आने का इंतजार किया जा रहा है।

मिर्जापुर के अदलहाट थाना क्षेत्र के कोल्हना  गांव के रहने वाले दिनेश सिंह ने अप्रैल 2017 में अपनी बेटी उन्नति की शादी नेवादा में रहने वाले पशुपालन विभाग से सेवानिवृत्त सुधुराम के तीन बेटों में सबसे छोटे बेटे उमेश से की थी। शादी के समय उमेश दिल्ली एयरपोर्ट पर संविदा पर नौकरी करता था। शादी के दो साल बाद नौकरी सरकारी हुई और बेटी प्रिसा पैदा हुई। पति उमेश दिल्ली मे ही रहता है। 

गुरुवार की सुबह कमरा देर तक नहीं खुलने पर ससुर सुधुराम ने दरवाजा खटखटाया तो भीतर से कोई जवाब नहीं मिलने पर अनहोनी की आशंका हुई। पुलिस और दिल्ली में रहने वाले उन्नति के पति उमेश सिंह को फोन कर जानकारी दी गई। उमेश ने घटना की सूचना पत्नी के पिता दिनेश सिंह को दी। सूचना मिलने पर पुलिस के साथ मायके वाले पहुंचे। कमरे में उन्नति सिंह का शव पंखे की हुंक से दुपट्टे के सहारे लटकता मिला। दो साल की बेटी प्रिंसा का शव बेड पर पड़ा हुआ था।

परिजनों ने दहेज के लिए हत्या करने का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। विवाहिता के पिता दिनेश सिंह की तहरीर पर पुलिस ने दहेज हत्या के आरोप में पति उमेश सिंह, सास जगपत्ति देवी, सुधुराम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सास-ससुर को हिरासत में ले लिया है। इंस्पेक्टर भेलूपुर रमाकांत दुबे ने बताया है कि प्रथम दृष्टया आत्महत्या और दहेज का मामला लग रहा है। उन्नति का पति दिल्ली से घर के लिए निकल चुका है। उन्नति के सास ससुर का कहना रहा है कि सब ठीक था। रात में खाना खाने के बाद बेटी के साथ सोने चली गई। इसी दौरान फांसी लगा ली। 

पति रखने के तैयार नहीं था

नौकरी लगते ही पति ने दहेज के लिए प्रताड़ित करते हुए मारपीट करने लगा और रखने से इनकार करने लगा। इसी बीच उन्नति अपने मायके चली गई। बीते दो माह पूर्व उन्नति की विदाई काफी दबाव देकर उसके ससुर सुधुराम ने कराई। मायके से ससुराल आने के बाद भी पति उसको रखने के लिए तैयार नहीं हुआ। उन्नति को उसका पति वीडियो कॉल करके प्रताड़ित करता था। इसके कारण बातचीत को रिकार्ड न कर सके। उन्नति के पिता दिनेश सिंह और छोटे भाई शांतनु सिंह ने आरोप लगाया हैं कि बुधवार की रात वीडियो कॉल पर उन्नति ने फोनकर सास ससुर व पति की तरफ से प्रताड़ित करने का आरोप लगया था।