मुरादाबादः अवैध वसूली के चक्कर में चार लोगों की मौत के जिम्मेदार ट्रैफिक इंस्पेक्टर को भेजा जेल

 

 



मुरादाबाद / मझोला थाना क्षेत्र में वसूली के चक्कर में हुए हादसे में चार लोगों की मौत के लिए जिम्मेदार ट्रैफिक इंस्पेक्टर को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जिला अस्पताल और फिर कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने इंस्पेक्टर को 14 दिनों की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया। फरार अन्य पुलिसकर्मियों की तलाश में पुलिस टीमें दबिश दे रही हैं।सोमवार तड़के पाक बड़ा जीरो पॉइंट से करीब 2 किलोमीटर दूर ट्रैफिक इंस्पेक्टर वाहनों से अवैध वसूली कर रहे थे। इसी दौरान पहले पिकअप को रोका गया फिर हिमाचल से आ रही निजी बस को वसूली के लिए रोकने की कोशिश की गई। इसी दौरान चालक नियंत्रण खो बैठा बस पिकअप को टक्कर मारते हुए पलट गई। हादसे में पीलीभीत निवासी ती यात्रियों और एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी की मौत हो गई थी।एसएसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया था। इस दौरान ट्रैफिक इंस्पेक्टर धर्मेंद्र राठौर द्वारा अवैध वसूली का मामला सामने आया। एक मृतक के भाई शिवकुमार की तहरीर पर छह पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने विवेचना में ट्रैफिक 70 समेत छह पुलिसकर्मियों के नाम उजागर किए सोमवार रात हिरासत में लिए गए ट्रैफिक इंस्पेक्टर को मंगलवार दोपहर बाद जेल भेज दिया गया एसपी सिटी अमित कुमार आनंद ने बताया कि फरार पुलिस कर्मियों की तलाश की जा रही है।