दो दिन बंद रहेंगी हरियाणा की सीमाएं,दिल्ली आ रहे किसानों को रोकने के लिए अंबाला में भारी पुलिस बल तैनात


केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के दिल्ली मार्च से पहले पंजाब के साथ लगने वाली हरियाणा की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अंबाला में किसान आंदोलन के मद्देनजर कानून-व्यवस्था संभालने के लिए चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे और शंभू बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात कर दिए गए हैं। इस बीच, हरियाणा पुलिस ने जनता के लिए एडवाइजरी जारी कर उनसे अपने यात्रा कार्यक्रमों में संशोधन करने की अपील की है।


Live Updates :-



केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के दिल्ली मार्च से पहले पंजाब के साथ लगने वाली हरियाणा की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अंबाला में किसान आंदोलन के मद्देनजर कानून-व्यवस्था संभालने के लिए चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे और शंभू बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात कर दिए गए हैं। इस बीच, हरियाणा पुलिस ने जनता के लिए एडवाइजरी जारी कर उनसे अपने यात्रा कार्यक्रमों में संशोधन करने की अपील की है।


Live Updates :-


अंबाला : दिल्ली जाने के लिए चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे पर इकट्ठा हुए किसानों को हटाने और प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस ने वाटर कैनन तैनात किए। 


26 और 27 नवंबर को बंद रहेंगी हरियाणा की सीमाएं

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को कहा कि केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के दिल्ली मार्च के पहले पंजाब के साथ लगने वाली राज्य की सीमाएं 26 और 27 नवंबर को बंद रहेंगी। खट्टर ने कहा था कि कुछ किसान नेताओं को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस सख्त कदम उठाएगी।








ANI

 



@ANI






Ambala: Police deploy water cannon to disperse farmers who have gathered on Chandigarh-Delhi Highway to proceed to Delhi for staging a demonstration




अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने हरियाणा में भाजपा सरकार द्वारा की गई कार्रवाई की निंदा करते हुए बताया था कि मंगलवार सुबह से 31 किसान नेताओं को गिरफ्तार किया गया है।


खट्टर ने कहा कि हम जनता से अपील करते हैं कि 25 और 26 नवंबर को उन्हें हरियाणा और पंजाब की सीमाओं पर आने से बचना चाहिए। 26 और 27 नवंबर को उन्हें हरियाणा-दिल्ली सीमा पर जाने से परहेज करना चाहिए। कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए हम हर जरूरी कदम उठाएंगे।


उन्होंने कहा कि मैं किसानों से अपील करता हूं कि कुछ संगठनों द्वारा किए गए 'दिल्ली चलो' के आह्वान का कोई मतलब नहीं है क्योंकि केंद्र द्वारा बनाए गए तीनों कानून किसानों के हित में हैं। हम मंडियों की संख्या और बढ़ाएंगे और एमएसपी पहले की तरह जारी रहेगा।  



Sources:Agency News/ Hindustan samachar