फाइनेंस कंपनी की मैनेजर से पांच लाख रुपये की ठगी



देहरादून में एक बैंककर्मी समेत दो लोग ने फाइनेंस कंपनी की मैनेजर को झांसे में लेकर लाखों रुपये का चूना लगा दिया। वसंत विहार थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।




 


देहरादून /  एक बैंककर्मी समेत दो लोग ने फाइनेंस कंपनी की मैनेजर को झांसे में लेकर लाखों रुपये का चूना लगा दिया। वसंत विहार थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 


पुलिस के अनुसार, टीएचडीसी कॉलोनी बंजारावाला में रहने वाली निशा नेगी मण्णापुरम फाइनेंस लिमिटेड की चकराता रोड शाखा में सहायक शाखा प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। निशा ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि शाखा में अनिल तिवारी निवासी पंडितवाड़ी के गोल्ड लोन के कई खाते थे। वह लगातार शाखा में आता-जाता था। इसके चलते उनकी पहचान हो गई। नवंबर 2019 में अनिल ने निशा से एक्सिस बैंक की जीएमएस रोड शाखा में बचत खाता खोलने के लिए कहा। खाता खोलने के कुछ दिनों बाद अनिल एक अन्य व्यक्ति को साथ लेकर फाइनेंस कंपनी पहुंचा और निशा से उसका परिचय एक्सिस बैंक के कर्मचारी के रूप में कराया। इस बीच अनिल ने धोखाधड़ी कर निशा के एक्सिस बैंक के खाते में अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करा दिया। इसके बाद वह खाते से लेनदेन करने लगा। बीती सात जुलाई को निशा को एक चेक बाउंस होने का नोटिस मिला, जबकि उन्हें बैंक से कोई चेक बुक नहीं मिली थी। 



 

यह बात निशा ने अनिल को बताई तो उसने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है, वह सब ठीक कर देगा। शक होने पर निशा बैंक गईं और खाता बंद करने को कहा तो बैंक कर्मियों ने जवाब दिया कि खाता केवल अनिल ही बंद कर सकता है। आरोप यह भी है कि अनिल ने निशा को झांसे में लेकर 200 ग्राम से अधिक सोना अपने नाम से गिरवी रखवाकर करीब पांच लाख रुपये भी हड़प लिए। निशा का आरोप है कि अनिल के साथ बैंक के कर्मचारी भी मिले हुए हैं। पुलिस ने अनिल व एक अन्य बैंक कर्मी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है।


Source:Agency News