हरिद्वार डबल मर्डर: बुजुर्ग दंपती का परिचित निकला मुख्य आरोपी, पैसों के लिए बेरहमी से की थी हत्या


उनके घर में लाखों रुपये का कैश और सोने-चांदी के गहने हैं। तब दोनों ने मिलकर बुजुर्ग दंपती के घर लूट की योजना बनाई। एसएसपी ने बताया कि आरोपी सतेंद्र ने बुजुर्ग पीएस अग्रवाल से बातचीत करते हुए एक बोतल पानी देने को कहा।


एसएसपी ने बताया कि आरोपी सतेंद्र शिवालिक नगर में बुजुर्ग दंपती के घर के सामने वाले मकान में किराये पर रहता था। इसी दौरान उसने पीएस अग्रवाल और उनकी पत्नी गायत्री अग्रवाल से जान पहचान बढ़ा दी। सतेंद्र ने ही विपिन को बताया था कि सामने वाले मकान में एक बुजुर्ग दंपती रहते हैं।


उनके घर में लाखों रुपये का कैश और सोने-चांदी के गहने हैं। तब दोनों ने मिलकर बुजुर्ग दंपती के घर लूट की योजना बनाई। एसएसपी ने बताया कि आरोपी सतेंद्र ने बुजुर्ग पीएस अग्रवाल से बातचीत करते हुए एक बोतल पानी देने को कहा।


जैसे ही पीएस अग्रवाल पानी लेने के लिए अंदर गए तो सतेंद्र और विपिन चारदीवारी कूदकर घर में घुस गए। आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि दोनों की हत्या इसलिए की, क्योंकि वह सतेंद्र को जानते थे। दोनों के शव जमीन पर पड़े मिले थे।


दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश करने में सीसीटीवी कैमरे की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। दोहरे हत्याकांड के खुलासे को लेकर पुलिस ने करीब एक हजार सीसीटीवी फुटेज निकालकर देखा। एसएसपी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने बताया कि बुजुर्ग की हत्या के खुलासे को लेकर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर 26 अक्तूबर को एक आरोपी विपिन कुमार को खतौली से गिरफ्तार कर लिया गया था। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त बाइक भी बरामद की थी।


पुलिस ने बताया कि दोनों बदमाश बुजुर्ग दंपती के घर में ज्यादा जेवर और नकदी न मिलने काफी परेशान हो गए थे। बदमाश ने काफी देर तक बुजुर्ग दंपती को कपड़ों से बांधकर उनके साथ मारपीट की। मारपीट पर बुजुर्ग दंपती ने बदमाशों को बताया कि उनके अधिकतर गहने बैंक लॉकर में रखे हुए हैं। बदमाशों ने गुस्से में आ कर बुजुर्ग महिला गायत्री अग्रवाल को फर्श पर पटक कर मार दिया और बुजुर्ग पीएस अग्रवाल की गला दबाकर हत्या कर दी। 


Source:Agency News