हाथरस की आड़ में रची जा रही बड़ी साजिश,कामयाब नहीं होने देंगे-योगी आदित्यनाथ



उत्तर प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव की तैयारियों के क्रम में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के उन्नाव जिले में बांगरमऊ क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को वर्चुअल संवाद में विपक्ष के दुष्प्रचार को तर्कपूर्ण जवाब मजबूती से देने को कहा।




 


 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हाथरस कांड के जरिये उत्तर प्रदेश में बड़ी साजिश रची जा रही थी। हम किसी भी तरह की साजिश को सफल नहीं होने देंगे। सीएम योगी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि हाथरस के मुद्दे पर राजनीति हो रही है। एक तरफ सरकार विकास के काम में लगी है, वहीं ये लोग षड्यंत्र रच रहे हैं। एक गरीब की लाश पर राजनीति करने वाले इन चेहरे को पहचाना होगा। देश के लिए और समाज के लिए कितनी विकृत सोच के साथ ये काम कर रहे हैं।


उत्तर प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव की तैयारियों के क्रम में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के उन्नाव जिले में बांगरमऊ क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को वर्चुअल संवाद में विपक्ष के दुष्प्रचार को तर्कपूर्ण जवाब मजबूती से देने को कहा। सीएम योगी ने कहा कि आज भी कुछ लोग समाज को जाति, धर्म और क्षेत्र के आधार पर विभाजित करते रहे हैं, वे आज भी इसी कार्य में लिप्त हैं। वे प्रदेश में विकास कार्यों होते नहीं देख सकते, इसलिए नए-नए षड्यंत्र रच रहे हैं। किसी की मौत पर राजनीति करने वालों को पहचानना चाहिए। 



उन्नाव जिले में बांगरमऊ क्षेत्र के मंडल, सेक्टर और बूथ के पदाधिकारियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आम मतदाताओं से गहन जनसंपर्क पर फोकस करने को कहा। उनका कहना था कि महामारी से बदले परिदृश्य में यही जीत की कुंजी है। सीएम योगी ने संपर्क के दौरान संक्रमण बचाव के उपायों का सख्ती से पालन करने की सलाह भी दी। उन्होंने यह भी कहा कि विपक्ष झूठा व भ्रामक दुष्प्रचार करने में जुटा है। ऐसे में विपक्ष की पोल खोलने के साथ केंद्र और प्रदेश सरकारों की उपलब्धियों को जन जन तक पहुंचाने की जरूरत है।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि झूठे नारों पर जाति, क्षेत्र, मत और मजहब के आधार पर समाज को बांटने वाले लोग आज भी अपनी विभाजनकारी मानसिकता से बाज नहीं आ रहे हैं। विकास उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है। लोक कल्याण उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है। शासन की योजनाएं अच्छी नहीं लग रही हैं, यही कारण है षडयंत्र पर षड्यंत्र रच रहे हैं। रोज नए षड्यंत्र को जन्म देते हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी नमूनों की साजिश और कृत्य जनता के सामने आ रहे हैं। कोई कहता है कि हम दंगा कराएंगे, जाति के आधार पर, कुछ और उधर से मरेंगे, कुछ लोग इधर से मरेंगे।  हमारे नेता आएंगे, उसके बाद जाकर राजनीति करेंगे।


Source:Agency News