चार धाम यात्रा2020-दूसरे दिन भी बंद रहा यमुनोत्री पैदल मार्ग,गंगोत्री हाईवे पर नदी में गिरा डंपर


जानकीचट्टी-यमुनोत्री धाम पैदल मार्ग के भिंडियालीगाड़ क्षेत्र में एक बार फिर भूस्खलन सक्रिय होने से यात्रा दूसरे दिन भी बाधित रही। मंगलवार सुबह भूस्खलन शुरू होने के कारण धाम की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई थी।


इस दौरान मार्ग बाधित होने से करीब 100 तीर्थयात्री धाम में ही फंस गए, जिन्हें पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने तीन घंटे रेस्क्यू अभियान चलाकर सुरक्षित निकाला। प्रशासन ने यमुनोत्री धाम की यात्रा पर रोक लगा दी।
विगत 11 सितंबर को जानकीचट्टी-यमुनोत्री धाम पैदल मार्ग के भिंडियालीगाड़ क्षेत्र में अचानक भारी भूस्खलन शुरू होने के कारण मार्ग का 150 मीटर हिस्सा पूरी तरह से तबाह हो गया था। प्रशासन ने सुरक्षित आवाजाही के लिए वैकल्पिक मार्ग बनाया था, लेकिन सोमवार देर रात से एक बार फिर रुक-रुक कर भूस्खलन शुरू हो गया।


आज खिली रहेगी धूप 
राजधानी देहरादून समेत प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में आज धूप खिली रहने का अनुमान है। मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार सभी क्षेत्रों में आसमान साफ रहेगा। दिन में ज्यादातर इलाकों में गर्मी और उमस परेशान कर सकती है।


गंगोत्री हाईवे के मनेरी डैम के पास नदी में गिरा एक डंपर


बुधवार सुबह गंगोत्री हाईवे के मनेरी डैम के पास भागीरथी नदी में एक डंपर गिर गया। दुर्घटना में वाहन चालक मनीष बिष्ट पुत्र तिरपन सिंह बिष्ट निवासी उत्तरकाशी की मौके पर मौत हो गई। पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने शव को निकाला।


Source:AgencyNews