उत्तर प्रदेश में 30 सितंबर तक हर तरह के कार्यक्रम पर लगी रोक


लखनऊ /  प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला लिया है और 30 सितंबर तक प्रदेश में सभी प्रकार के धार्मिक सांस्कृतिक राजनीतिक और सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है.


सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना माहामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए आगामी 30 सितंबर तक किसी भी समारोह पर रोक लगा दी है. देश के सबसे बड़े सूबे में आगामी 30 सितंबर तक कोई भी सार्वजनिक समारोह, धार्मिक उत्सव, राजनीतिक आंदोलन एवं सभाएं आयोजित नहीं की जाएंगी. इन नियमों के तहत सार्वजनिक रूप से मूर्तियां, ताजिया एवं अलम भी स्थापित नहीं किए जाएंगे.


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 का चिकित्सा जांच कार्य पूरी क्षमता से संचालित करने के मंगलवार को निर्देश दिए. इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने कोविड चिकित्सालयों में बेड की संख्या में वृद्धि करने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों की चिकित्सा सुविधाओं को गुणवत्तापरक बनाकर रखा जाए. उन्होंने कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन 85 हजार से अधिक रैपिड एन्टीजन टेस्ट तथा 45 हजार से अधिक आरटीपीसीआर जांच अवश्य की जाएं. इसके अतिरिक्त, ट्रूनैट मशीन के माध्यम से भी अधिक से अधिक जांच की जाएं. मुख्यमंत्री अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे.


Source :Agency news