सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

अखिलेश ने बना रखा है पिता मुलायम को बंधक: प्रमोद गुप्ता

यू.पी में जैसे ही विधानसभा चुनाव का वक्त नजदीक आता जा रहा है दल-बदल का खेल भी चरम पर है । आपको बता दें कि बिधूना विधानसभा से विधायक विनय शाक्य और उनके भाई के सपा में शामिल होने के बाद से सियासी पारा और गर्म हो गया है।इसी क्रम में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के साढ़ू प्रमोद गुप्ता उर्फ एलएस भी पाला बदलने का ऐलान कर चुके हैं। जैसा की खबर है कि वह भाजपा में शामिल होने के लिए लखनऊ पहुंच चुके हैं। उनके भाजपा में जाने के बाद बिधूना की सियासत में एक बार फिर से उलट फेर के आसार दिख रहे हैं। माना ये जा रहा है कि सपा से प्रमोद प्रबल दावेदार थे लेकिन विनय व उनके समर्थकों के शामिल से होने से चुनावी गणित गड़बड़ा गई। वहीं कुछ लोग इसे प्रसपा सुप्रीमो शिवपाल द्वारा टिकट बंटवारे को लेकर अंदर खाने मची रार का असर बता रहे हैं। आपको मालूम हो बिधूना विधान सभा में प्रमोद गुप्ता एलएस पिछड़ी जाति पर अच्छी पकड़ रखते हैं। मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता ;अब साधना यादवद्ध के बहनोई हैं और मुलायम सिंह के साढू। वह एक बार टिकट न मिलने पर निर्दलीय नगर पंचायत का चुनाव लड़े और जीते थे। इसके बाद 2012 में सपा ने प

विवादित बयान को लेकर मुस्लिम समुदाय में उबाल,पुलिस मुख्यालय किया कूच

  


देहरादून हरिद्वार धर्म संसद में लगातार चली आ रही विवादित बयानबाजी से मुस्लिम समुदाय में उबाल है। धर्म संसद में पहले वसीम रिजवी उर्फ जितेन्द्र नरायण सिंह त्याबी के बयान फिर अखाड़ा परिषद में दिये गये भड़काऊ भाषण से मुस्लिम समुदाय आहत है। वहीं आज वसीम रिजवी उर्फ नरेंद्र त्यागी की लिखी किताब को प्रतिबंधित करने के  साथ हरिद्वार इंस्पेक्टर को निलंबित करने की मांग को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पुलिस मुख्यालय कूच किया। अल सुबह भारी तादाद में लोग कनक चौक पर जमा हुए। एसपी सिटी सरिता डोबाल समेत तमाम पुलिस अफसरमुस्लिम समुदाय के लोगों को समझाते रहे लेकिन वह मांगों पर अड़े रहे। प्रदर्शनकारी ने हाथों में तिरंगा लिया था। मुस्लिम सेवा संगठन के अध्यक्ष नईम कुरैशी ने कहा कि हरिद्वार पुलिस और सरकार की मंशा ठीक नहीं है जिसके चलते आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हो रही है। जब तक कार्रवाई नहीं होगी वह अपना आंदोलन खत्म नहीं करेंगे।  इस दौरान बड़ी तादाद में उलेमा भी मौजूद है। मुफ्ती रईस अहमद कासमी, मुफ्ती सलीम अहमद कासमी, सद्दाम हुसैन, साकिर कुरेशी, दानिश कुरेशी आदि मौजूद है।


टिप्पणियाँ

Popular Post