हरियाणा के सीएम आवास के बाहर किसानों का विरोध प्रदर्शन, तोड़े बैरिकेड्स

 


 

पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने रेलवे ट्रैक पर धरने के दौरान आरपीएफ द्वारा किसान संगठनों के सदस्यों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने का आदेश दिया है। इसकी जानकारी पंजाब सूचना और जनसंपर्क विभाग ने दी है। जानकारी के लिए बता दें कि धान की खरीद शुरू होने में देरी के मुद्दे पर प्रदर्शनकारी हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के निवास के घेराव के लिए इकट्ठा हो गए। बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौके पर तैनात हैं। प्रदर्शनकारी पुलिस बैरिकेडिंग तोड़कर आगे बढ़ गए हैं। वहीं किसानों ने सोनीपत में सांसद रमेश कौशिक के आवास के बाहर बी धरना प्रदर्शन किया।हरियाणा से धान खरीद में 10 अक्टूबर तक की देरी के बाद प्रदर्शनकारी भाजपा विधायक असीम गोयल के आवास के बाहर भी जमा हो गए। इसी बीच हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि, किसानों का आंदोलन दिन-ब-दिन हिंसक होता जा रहा है।

 

#WATCH Protestors break barricades, police use water cannon against them, gathered outside the residence of Haryana CM ML Khattar in Karnal after paddy procurement delayed till October 10 in Haryana
 
 https://twitter.com/i/status/1444209310758625280