दिल्ली में गैंगवार शुरू होने के आसार? गैंगस्टर गोगी की हत्या के बाद तिहाड़ समेत सभी जेलों में हाई अलर्ट

 


  दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को दिनदहाड़े गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी की हत्या के मद्देनजर जेल अधिकारियों ने गैंगवार की आशंका जताई है, इसलिए तिहाड़ जेल, मंडोली जेल और रोहिणी जेल समेत दिल्ली की सभी जेलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

अधिकारियों ने कहा कि गोगी तिहाड़ जेल में बंद था और उसका प्रतिद्वंद्वी टिल्लू ताजपुरिया मंडोली जेल में है, इसलिए इन जेलों को विशेष अलर्ट पर रखा गया है। अधिकारियों ने आगे कहा कि दोनों गिरोहों के कई बदमाश और शार्प शूटर भी रोहिणी जेल में बंद हैं।

रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को वकीलों के वेष में दो हमलावरों ने गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा कि हमलावरों की पहचान राहुल त्यागी और जगदीप के रूप में हुई है और दोनों को पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में मार गिराया। पुलिस ने यह भी बताया कि गोलीबारी के दौरान कोई नागरिक या अदालत का कर्मचारी घायल नहीं हुआ।

 

In view of gangster Jitendar Mann Gogi's shootout at Rohini Court yesterday, there is a possibility of 'Gangwar', therefore, all Delhi jails including Tihar Jail, Mandoli Jail and Rohini Jail have been put on 'alert': Prison Officials

 

वहीं, दिल्ली पुलिस ने कल कोर्ट रूम में गैंगस्टर गोगी पर हुई गोलीबारी के मद्देनजर आज रोहिणी कोर्ट के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी है। पुलिस हर आने-जाने वाले पर कड़ी नजर रखे हुए है।

गौरतलब है कि रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को दिल्ली के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की वकील के वेश में आए दो हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दोनों हमलावर भी मारे गए थे। दोनों हमलावर टिल्लू ताजपुरिया गैंग से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं। पुलिस ने कहा कि घटना दोपहर करीब 1.15 बजे हुई जब गोगी को सुनवाई के लिए अदालत कक्ष संख्या 207 लाया गया और वकील की ड्रेस में आए दो गैंगस्टरों ने उस पर गोलियां चला दीं।

अचानक हुई गोलीबारी के बाद कोर्ट में अफरा-तफरी मच गई। अदालत कक्ष के अंदर मौजूद लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। हमलावरों ने गोगी को करीब 10 गोलियां मारीं। पुलिस के मुताबिक, जितेंद्र मान उर्फ ​​गोगी के सिर पर 6.5 लाख रुपये का इनाम था। उसे तीन साथियों के साथ पिछले साल मार्च में स्पेशल सेल की एक टीम ने गुड़गांव से गिरफ्तार किया था। उसे कुलदीप मान उर्फ ​​फज्जा, कपिल उर्फ ​​गौरव और रोहित उर्फ ​​कोई के साथ गिरफ्तार किया गया था।