सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

अखिलेश यादव-राजभर की जोड़ी का ऐलान,बंगाल में खेला होबे के बाद अब यूपी में खदेड़ा होबे

      सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने अपनी पार्टी के 19वें स्थापना दिवस के अवसर पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को अपने मंच पर बुलाकर आगामी विधानसभा चुनाव में छोटे बड़े दलों के गठबंधन को मंच मुहैया कराने की कोशिश की है। ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि वह भावी सीएम को आपने सामने लेकर आए हैं।  उन्होंने कहा कि वह समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। अखिलेश यादव के साथ रैली में ओपी राजभर ने कहा कि बंगाल में 'खेला होबे' हुआ था तो यूपी में 'खदेड़ा होबे'। राजभर ने कहा कि 2022 में अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे। सरकार बनी तो घरेलू बिजली का बिल 5 साल तक माफ किया जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि सपना दिखाया की चप्पल पहनने वाला हवाई जहाज में चलेगा, आज महंगाई के कारण चप्पल पहनने वाले व्यक्ति की मोटरसाइकिल भी चल नहीं पा रही है।  आज पेट्रोल की कीमत क्या है? क्या हालत कर दी जनता की। अखिलेश यादव जी ने कहा जब कोरोना जैसी महामारी आई तब सरकार ने बेसहारा छोड़ दिया सरकार ने मदद नहीं की। इससे पहले ओपी राजभर ने कहा कि यूपी के लोग बीजेपी क

लखनऊ में दर्दनाक हादसा : बेकाबू ट्रक सामने से आ रही वैन पर पलटी, मासूम सहित पांच की मौत, तीन घायल

 

 इटौंजा-कुर्सी रोड पर स्थित टिकरी गांव के पास शुक्रवार सुबह बेकाबू ट्रक सामने से आ रही वैन पर पलट गई। हादसे में तीन साल के मासूम अरनव सहित पांच लोगाें की मौत हो गई। हादसे में मरने वालों में आर्यन सिंह (18), अजीत सिंह (22), दुर्गेश सिंह (26), भवानी सिंह व तीन साल का अरनव शामिल हैं। मरने वालों में चार उन्नाव के औरास और एक रसूलाबाद कानपुर देहात के रहने वाले थे। वहीं इंद्र बहादुर सिंह, अनुज सिंह और बबिता सिंह गंभीर रूप से घायल हो गये हैं। हादसे में ट्रक के नीचे आने से वैन पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस ने मामले की पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक हादसे के वक्त वैन सवार सभी आठों लोगों अयोध्या से दर्शन करके वापस घर जा रहे थे। प्रभारी निरीक्षक इटौंजा जितेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक उन्नाव के औरास निवासी इंद्र बहादुर सिंह अपने परिवार और रिश्तेदार के साथ अयोध्या दर्शन करने गये थे। इंद्र बहादुर के साथ उनके तीन बेटे अनुज सिंह, आर्यन सिंह, अजीत सिंह, गांव के ही दुर्गेश सिंह और भवानी सिंह थे। वहीं कानपुर देहात के रसूलाबाद के लक्ष्मनपुर पिलक निवासी भूपेंद्र सिंह की पत्नी बबिता सिंह, तीन साल का बेटा अर्नव सिंह अयोध्या गये थे।शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे उनकी वैन कुर्सी से इटौंजा रोड पर टिकरी गांव के पास पहुंची थी। इसी बीच सामने से आ रही बेकाबू तेज रफ्तार ट्रक ने वैन को टक्कर मार दी। दोनों वाहनों की टक्कर होते ही वैन पर ट्रक पलट गया। जिसके नीचे सभी वैन सवार दब गये थे। हादसे की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने लोगों को बचाने का प्रयास शुरू किया।पुलिस के मुताबिक हादसा स्थल पर पहुंचने के बाद वैन पर गिरी ट्रक को हटवाने के लिए क्रेन मंगाया। इसके बाद वैन के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए गैस कटर का प्रयोग करना पड़ा। वैन को काटने के बाद एक-एक लोगों को बाहर निकाला गया। इसके बाद अस्पताल भेजा गया। जहां डॉक्टरों ने आइ लोगों में पांच को मृत घोषित कर दिया। वहीं तीन की हालत नाजुक बताई जा रही है। पुलिस ने वैन व ट्रक को कब्जे में ले लिया है। पुलिस के मुताबिक ट्रक चालक व खलासी मौके से फरार बताया जा रहा है।इटौंजा-कुर्सी रोड पर टिकरी गांव के पास सुबह करीब 11 बजे बेकाबू ट्रक मारूति वैन पर पलट गई। तेज धमाके की आवाज सुनकर पूरा इलाका दहल गया। हादसा होने के साथ ही धुल का गुबार छा गया था। जिसके छंटने के बाद सड़क पर ट्रक पलटा देखा गया। अचानक एक ग्रामीण की नजर ट्रक के नीचे पड़ी तो उसने वैन के दबने की शोर की। शोर सुनकर लोग पुलिस को सूचना देने के बाद खुद ट्रक हटाने केलिए कोशिश करने लगे।वैन के अंदर से चीख पुकार व कराहने की आवाज सुनकर लोगों को पता था कि अंदर कुछ लोग फंसे हैं। लेकिन एक साथ इतने लोग होंगे यह अनुमान ग्रामीण नहीं लगा पा रहे थे। इसी बीच हादसे की सूचना पुलिस के आला अधिकारी को भी मिल गई। मौके से सीओ बीकेटी और एसपी ग्रामीण हृदयेश कुमार भी मौके पर पहुंच गये। इसके बाद से राहत कार्य में तेजी आई।


टिप्पणियाँ

Popular Post