व्यापारियों के बाद अब विक्रम और ऑटो महासंघ भी आंदोलन की डगर पर,कल सरकार के खिलाफ करेंगे प्रदर्शन

ऋषिकेश / कोरोना महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे विक्रम, ऑटो मालिक व चालकों ने सरकार की ओर से कोई आर्थिक मदद न मिलने पर आंदोलन का फैसला लिया है। उत्तराखंड विक्रम टैंपो महासंघ के बैनर तले मालिक व चालक शुक्रवार को सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। गुरुवार को गढ़वाल विक्रम टैंपो वेल्फेयर एसोसिएशन कार्यालय में ऋषिकेश व आसपास क्षेत्र के समस्त विक्रम, आटो व टैक्सी यूनियन के पदाधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उत्तराखंड विक्रम, टैंपो महासंघ के अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण काम बंद होने से विक्रम, आटो, टैक्सी मालिक व चालकों के परिवार भूखमरी की कगार पर पहुंच गये हैं। मगर, राज्य सरकार की हठधर्मिता के कारण आज तक इस व्यवसाय से जुड़े हजारों परिवारों के हित में कोई निर्णय नहीं लिया गया।उन्होंने कहा कि सरकार के इस रवैये से मजबूर होकर उन्हें आंदोलन के लिए विवश होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार चार जून से विक्रम यूनियन कार्यालय के बहार कोविड गाइडलाइन का पालन करते सरकार के खिलाफ प्रर्दशन किया जाएगा। इसके बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी। बैठक में विक्रम यूनियन लक्ष्मणझूला के अध्यक्ष त्रिलोक भंडारी, श्रीनिवास पांडेय, वीरेंद्र सिंह सजवाण, हरिमोहन, ओटो यूनियन के अध्यक्ष राजेंद्र लाम्बा, संजय आर्य, टैक्सी यूनियन के अध्यक्ष विजयपाल सिंह रावत, पंकज वर्मा, अमित पाल, सत्यनारायण शर्मा, विक्रम यूनियन डोईवाला के अध्यक्ष विजय यादव, उद्योग व्यापार मंडल ऋषिकेश के अध्यक्ष ललित मोहन मिश्र आदि मौजूद थे।