सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

मार्च से लगेगी 12 से 14 साल तक के बच्चों को वैक्सीन

जैसा की मालूम है कि देश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान बहुत तेजी से चल रहा है। इसी कड़ी में 3 जनवरी से सरकार ने 15 से 18 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरू किया था। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए बूस्टर डोज की भी शुरुआत हो चुकी है।]  इन सबके बीच बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर अच्छा समाचार आ रहा है। आपको बता दें देश में मार्च महीने से 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन लगना शुरू हो जाएगा। इस बात की जानकारी टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के प्रमुख एनके अरोड़ा ने दी। आपको बता दें कि देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड.19 रोधी टीकों की 157.20 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर बताया कि 3 जनवरी से अब तक 15.18 आयु वर्ग के 3.5 करोड़ से अधिक बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज़ लगा दी गई है।  वहीं देश में टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसने वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई को बेहद मजबूत बनाया और इसके चलते ही लो

फर्टिलाइजर केस: RJD के राज्यसभा सांसद एडी सिंह को ईडी ने किया अरेस्ट, लालू के माने जाते हैं करीबी

फर्टिलाइजर केस की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने आरजेडी के राज्यसभा सांसद एडी सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। ईडी की टीम ने बुधवार देर रात उन्हें गिरफ्तार किया है। डिफेंस कॉलोनी स्थित उनके घर पर काफी देर तक तलाशी के बाद ईडी ने यह कार्रवाई की है। बीते साल मार्च में ही आरजेडी ने उन्हें राज्यसभा भेजा था। उस वक्त आरजेडी में भी उनके नाम से बहुत ज्यादा लोग वाकिफ नहीं थे और खुद पार्टी के नेताओं ने ही उन्हें उच्च सदन भेजे जाने पर हैरानी जताई थी। इसके अलावा एक वजह एडी सिंह यानी अमरेंद्र धारी सिंह का भूमिहार होना था। माना जाता है कि लालू प्रसाद यादव पिछड़ों की राजनीति करते हैं। ऐसे में एडी सिंह को उच्च सदन में भेजे जाने पर राजनीतिक विश्लेषकों ने भी हैरानी जताई थी।पार्टी सूत्रों का कहना था कि उन्हें लालू प्रसाद यादव का करीबी माना जाता है और उनके कहने पर ही उन्हें राज्यसभा भेजा गया है। उन्हें सांसद बनाने पर उठे सवालों का बचाव करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा था कि आरजेडी सिर्फ मुस्लिमों और यादवों की ही पार्टी नहीं है। हमने सभी जातियों और धर्मों से आने वाले लोगों को प्रतिनिधित्व दिया है। पटना के रहने वाले एडी सिंह बिहार के बड़े कारोबारियों में से एक हैं। दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट एडी सिंह का फर्टिलाइजर और केमिकल्स का कारोबार है। इसके अलावा रियल एस्टेट सेक्टर में भी वह बड़ा दखल रखते हैं। उनका पूरा कारोबार दिल्ली से ही संचालित होता है। Source:prabhashakshi samachar

टिप्पणियाँ

Popular Post