सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत के ड्रीम प्रोजेक्ट में वित्तीय गड़बड़ी का खुलासा

  उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत के ड्रीम प्रोजेक्ट में शुमार ‘सूर्यधार झील’ में वित्तीय गड़बड़ी की पुष्टि हुई है। इस पर सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने इस मामले के दोषियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। आपको बता दें कि दो साल पहले जांच शुरू हुई थी, जैसा कि मालूम हो कि  29 जून 2017 को तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सूर्यधार झील के निर्माण की घोषणा की थी। 22 दिसंबर 2017 को इसके लिए 50 करोड़ 24 लाख रुपये का बजट मंजूर करा गया था। इसके बाद 27 अगस्त 2020 को सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने सूर्यधार बैराज निर्माण स्थल का निरीक्षण किया तो उनका खामियां मिलीं। मौके पर खामियां सामने आने के बाद महाराज ने जांच के आदेश दे दिए थे। मामले की जांच को 16 फरवरी 2021 को तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया था। इस समिति ने 31 दिसंबर 2021 को शासन को रिपोर्ट सौंप दी। पर्यटन मंत्री महाराज को चार जनवरी 2022 को रिपोर्ट मिली तो उन्होंने कार्रवाई के निर्देश दे दिए। अब सिंचाई सचिव हरिचंद सेमवाल ने इस मामले में सिंचाई विभाग के एचओडी प्रमुख अभियंता इंजीनियर मुकेश मोहन को कार्रवाई करने के निर्देश

भारत महान नहीं,भारत बदनाम है-कमलनाथ

कांग्रेस के नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का एक और बयान खूब चर्चा में है। एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह यह बोलते हुए सुने जा रहे हैं कि भारत महान नहीं है, भारत बदनाम है। उन्होंने आगे कहा कि सारे देशों ने भारत से आने वाले लोगों पर पाबंदी लगा दी है। उन्होंने दावा किया कि उनका एक मित्र न्यूयॉर्क से फोन किया था। उसने कहा कि न्यूयॉर्क में भारत के टैक्सी चलाने वाले लोगों के टैक्सी में कोई बैठना नहीं चाहता है।
ANI_HindiNews @AHindinews #WATCH https://twitter.com/i/status/1398210781833957378 भारत महान नहीं, भारत बदनाम है। सब देशों ने रोक लगाई है कि भारत के लोग नहीं आ सकते: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कमलनाथ ने मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते थे कि हमने कोरोना वायरस से लड़ाई जीत ली है। लेकिन अब जब वैक्सीन की किल्लत हो रही है तो वह ग्लोबल टेंडर निकालने की बात कर रहे हैं। इससे पहले कमलनाथ ने केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि आज प्रदेशवासी सरकार के भरोसे नहीं, भगवान भरोसे है। किस तरह हमारा भारत आज भाजपा सरकार के कारण विश्व भर में बदनाम हो रहा है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के आग लगाने वाले बयान पर राजनीति कम होने का नाम नहीं ले रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कमलनाथ से जवाब मांगने और भाजपा नेताओं द्वारा एफआईआर करवाये जाने पर कमलनाथ ने पलटवार किया है। उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि शिवराज सरकार चाहती है कि मैं चुप रहूँ, जनता की आवाज़ ना उठाऊँ और उनके हक़ की लड़ाई ना लडू, लेकिन मैं चुप नहीं बैठूँगा। जीवन की आखरी साँस तक जनता के हित की लड़ाई लड़ता रहूँगा, कोई एफआईआर मुझे दबा नहीं सकती है। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post